कोपर्डी गैंगरेप केस: अदालत ने तीनों दोषियों को सुनाई मौत की सजा

अहमदनगर, महाराष्‍ट्र के कोपर्डी गांव में 2016 को 15 वर्षीय लड़की के दुष्‍कर्म व हत्‍या मामले में तीन आरोपियों को सेशन कोर्ट ने आज मौत की सजा सुनायी.एडिशनल स्‍पेशल जज सुवर्णा केवले ने जीतेंद्र बाबूलाल शिंदे, संतोष गोरख भावल और नितिन गोपीनाथ भाइलुमे को मृत्‍युदंड दिया.

18 नवंबर को जज ने तीनों आरोपियों को दुष्‍कर्म व हत्‍या मामले में दोषी करार किया. मराठा समाज की एक नाबालिग लड़की की 13 जुलाई, 2016 को गैंगरेप के बाद हत्या कर दी गई थी. उसका शव अहमदनगर जिले के कोपर्डी गांव में मिला था. इसे लेकर अहमदनगर समेत राज्य भर में कई दिनों तक भारी विरोध प्रदर्शन हुआ था.

इस मामले में अदालत के सामने 24 सबूत पेश किए और 31 गवाहों के बयान दर्ज हुए. इनमें मृतक लड़की के पिता, बहन, चाचा, दादा, सहेली, डॉक्टर, जांच अधिकारी की गवाही महत्वपूर्ण रही. फैसला जल्द से जल्द हो इसके लिए रविवार को भी सुनवाई हुई.