रुद्रपुर : चोरों ने लॉकर तोड़कर उड़ाए लाखों

रुद्रपुर ,पेट्रोल पंप कर्मी के घर से चोरों ने दो लाख की नगदी समेत करीब पांच लाख की संपत्ति चोरी कर ली पंप कर्मी के यहां हुई चोरी में चोरों ने काफी सावधानी बरतते हुए घर में लगे सीसी कैमरे को तोड़ा तो घर के खतरनाक कहे जाने वाले पालतू कुत्ते भी ऐसे खामोश रहे कि मानो उन्हें कुछ सुंघा दिया हो. पुलिस ने मौके पर पहुंचकर चोरी की घटना का मुआयना किया. पुलिस को मामले की तहरीर दे दी गई है.

शहर के वार्ड संख्या चार स्थित दूधिया नगर (कैनाल कालोनी) निवासी परमानंद पिछले कई सालों से यहां रहते चले आ रहे हैं. परमानंद ने बताया कि वो किच्छा रोड स्थित एक पंप के टैंकर का ड्राइवर है. वो बीती रात घर पर अपनी पत्नी के साथ एक कमरे में सो रहा था जबकि अन्य कमरे बंद थे. बताया गया कि रात्रि में 12 से दो बजे के बीच में उसके घर में पड़ोसी की छत से होते हुए चोर घुस गए. चोरों ने बंद कमरे में रखी अलमारी का लॉकर तोड़कर उसमें रखे 2.15 लाख की नगदी और आठ तोला सोने के अलावा चांदी आदि के जेवरात चुरा लिए.

पंप कर्मी ने यह भी बताया कि दो लाख रुपये उसने किसी को उधार दिए थे, वो हाल ही में वापस आ गए थे. अगर यह रुपये वापस नहीं आते तो उसका एक बड़ा नुकसान बच जाता. चोरी के दौरान गृह स्वामी गहरी नींद में सोते रह गए. उन्हें दो बजे बाद पता चला कि उनके बगल का कमरा खुला हुआ है. जिसमें चोर अलमारी तोड़कर माल चुरा ले गए. इधर उधर काफी देखा लेकिन कहीं कुछ चोरों का पता नहीं चल सका. इधर, घटना की जानकारी पर रम्पुरा चौकी इंचार्ज नवीन जुराल ने मय फोर्स पहुंचकर मौका मुआयना किया.

उन्होंने बताया कि अभी वे चोरी के बावत मामले में जांच कर रहे हैं. जांच के बाद ही कुछ बता सकेंगे. पीड़ित ने बताया कि पुलिस को तहरीर दे दी गई है. समाचार लिखे जाने तक चोरी के मामले में रिपोर्ट दर्ज नहीं हो सकी थी.घर में लगे सीसी कैमरे भी चोरों ने तोड़ डाले. तोड़े गए कैमरे बगल की जगह में पड़े मिले. इसके अलावा चोरों ने इन्वर्टर का कनेक्शन भी विच्छेद कर दिया था. पुलिस ने भी टूटे हुए सीसी कैमरे को देखा और चोर को पहचानने के लिए डीवीआर का भी मुआयना कर रही है. पुलिस ने बताया कि चोरी की घटना को हरसंभव खोलने के प्रयास किए जा रहे हैं.

घर के गेट से भले ही चोरों ने प्रवेश न किया हो, लेकिन मुख्य द्वार पर बैठे तीन तीन खतरनाक कुत्ते चोरों के घुसने से लेकर निकलने तक खामोश रहे. आखिर क्या वजह रही कि कुत्ते नहीं भौंके. जबकि गृह स्वामी का कहना था कि अगर वो खुद भी हेलमेट पहनकर घर में आता है तो उसके कुत्ते उसे घुसने नहीं देते उसे हेलमेट उतारकर ही आना पड़ता है. गृह स्वामी परमानंद ने यह भी बताया कि कुत्तों को पता नहीं आज क्या हो गया कि सुबह कई लोग उनके यहां इस घटना की पूछताछ पर आ जा रहे हैं, लेकिन वे पूरी तरह खामोश हैं. जबकि उनके कुत्ते बहुत ही खतरनाक है