ISIS ने 2014 से अब तक 100 भारतीयों को अपने चुंगल में फ़ंसाया

भारत की सुरक्षा एजेंसियां मानती हैं कि भारत की जनसंख्या और यहां मौजूद मुस्लिम आबादी के हिसाब से  ISIS संगठन काफी कम लोगों को आकर्षित करने में सफल हो पाया है. गृह मंत्रालय ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि 2014 से अब तक कुल 100 भारतीय नागरिको ने ISIS को ज्वॉइन किया है, और इसमें से 50 भारत से गए और बाकी 50 गल्फ देशों में रह रहे थे और वे वहीं से इसका हिस्सा बन गए.

भारतीय सुरक्षा एजेंसियों को आईएस से ज्यादा चिंता भारत के अंदर मौजूद कुछ संगठनों की है, इसमें पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) भी शामिल है. यह संगठन केरल, तमिलनाडु, कर्नाटक के साथ-साथ असम, पश्चिम बंगाल, यूपी और राजस्थान में अपने पैर पसार रहा है. केंद्र सरकार इस संगठन को बैन करने का प्रस्ताव लाने पर विचार कर रही है

रिपोर्ट में यह भी सामने आया है कि भारतीय युवा ISIS में शामिल भले ही ना हो रहे हों, लेकिन इससे जुड़ी सामग्री को इंटरनेट पर खूब देखा जा रहा है. ISIS से संबंधित सामग्री साउथ के राज्यों में काफी देखी जा रही है. इसमें केरल, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, कर्नाटक आदि शामिल हैं. इनके अलावा महाराष्ट्र और जम्मू कश्मीर के युवा भी इंटरनेट पर ISIS को खूब सर्च कर रहे हैं.