अपराधों पर रोकथाम के लिए कठोर कार्रवाई हो : हरीश रावत

देहरादून, पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने प्रदेश में गिरती कानून व्यवस्था पर गहरी चिन्ता प्रकट की है. उन्होने कहा कि राजधानी में भी अपराधों की बाढ़ आ गई है नितदिन चोरी, हत्याओं व अन्य अपराधों में बढ़ोतरी राज्य के लिए अच्छा संकेत नही है.

सरकार व पुलिस को अपराधों की रोकथाम के लिए तदपरतापूर्वक कठोर कार्यवाही करनी चाहिए.वहीं पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने प्रदेश में अब तक भी गन्ने की खरीद मूल्य की घोषणा न करने पर अपनी नाराजगी दिखाई है. उन्होने कहा कि अगेती प्रजाति का गन्ना खेतों में खड़ा है कोल्हू व मिलों मे जा रहा है.

परन्तु खरीद मूल्य की घोषणा न होने पर किसान असंमजस में है तथा पिछला 300 करोड़ रुपये का बकाया मूल्य से अधिक का गन्ना किसानों का भुगतान भी सरकार नही कर पाई है, मुख्यमंत्री की इस पर चुप्पी भी आश्चर्यजनक है, इससे किसानों को भारी हानि उठानी पड़ रही है. कुछ चीनी मिलों द्वारा किसानों से गन्ना खरीदने को मना करने पर भी उन्होने सरकार की आलोचना की है.