15 दिसंबर से 5 जनवरी तक चलेगा संसद का शीतकालीन सत्र

संसद के शीतकालीन सत्र की तारीखों की घोषणा हो गई है. यह सत्र 15 दिसंबर से शुरू होगा और 5 जनवरी तक चलेगा. शुक्रवार को दिल्ली में हुई संसदीय समिति की बैठक में यह फैसला लिया गया.

इसकी आधिकारिक घोषणा करते हुए संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार ने बताया कि सत्र 15 दिसंबर से शुरू होकर 5 जनवरी तक चलेगा. यह 14 दिन का सत्र होगा जिसमें 25 और 26 दिसंबर को क्रिसमस की छुट्टी रहेगी.

उन्होंने आगे कहा कि मैं सभी दलों से अपील करता हूं कि सत्र में सहयोग करें ताकि यह सफल और परिणामदायक रहे. हम यह भी उम्मीद करते हैं कि संसद के इस सत्र में सभी की उपस्थिति शत प्रतिशत रहेगी जिसमें नया साल भी शामिल है. सत्र की घोषणा के बाद अब कांग्रेस ने सदन में केंद्र सरकार को घेरने की तैयारी कर ली है. लोकसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि हम नोटबंदी, जीएसटी, हाफिज सईद को पाक द्वारा छोड़े जाने जैसे कई अहम मुद्दों को तय करेंगे.

हम सदन में सभी महत्वपूर्ण मुद्दों को उठाएंगे. बता दें कि इस बार संसद का यह शीत सत्र कई मायनों में अहम होगा. इस सत्र में कई महत्वपूर्ण बिलों को पेश किया जाएगा. इनमें हाल ही में कैबिनेट द्वारा दिवालियापन को लेकर कानून में संशोधन को लेकर विधेयक भी शामिल है.