टीएचडीसी में सांप्रदायिक सद्भाव अभियान सप्ताह शुरू

विद्युत मंत्रालय, भारत सरकार के निर्देशानुसार टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड (टीएचडीसीआईएल)सांप्रदायिक सद्भाव अभियान सप्‍ताह 19 से 25 नवम्‍बर तक मनाया जा रहा है तथा 26 नवम्‍बर, 2017 संविधान दिवस का मनाया जाना प्रस्‍तावित है.

अध्‍यक्ष एवं प्रबन्‍ध निदेशक डी.वी. सिंह द्वारा आज गंगाभवन प्रागंण में अधिकारियों एवं कर्मचारियों के समक्ष संविधान की प्रस्‍तावना को पढ़ा गया. इस अवसर पर निदेशक (कार्मिक) एस.के. बिश्‍वास, निदेशक (वित्‍त) श्रीधर पात्र, महाप्रबन्‍धक (कार्मिक एवं प्रशासन/कॉरपोरेट संचार) विजय गोयल, महाप्रबन्धक (कॉरपोरेट नियोजन) वी. के. बड़ोनी, महाप्रबन्‍धक (वाणिज्‍यिक) अजय माथुर तथा महाप्रबन्‍धक (वित्‍त) जे. बेहरा सहित अन्‍य अनेक वरिष्‍ठ व कनिष्‍ठ अधिकारी तथा कर्मचारी उपस्‍थित रहे.

सांप्रदायिक सद्भाव अभियान सप्‍ताह के दौरान व संविधान दिवस के उपलक्ष्‍य में कॉरपोरेशन में जागरूकता फैलाने के उद्देश्‍य से कई कार्यक्रम आयोजित किये जा रहे हैं जिसमें 23 नवम्‍बर, 2017 को टी.ई.एस. हार्इस्‍कूल, ऋषिकेश के छात्र-छात्राओं के लिए “छात्र संसद” एवं अधिकारियों एवं कर्मचारियों के लिए “भारतीय संविधान में डॉ. भीमराव अम्‍बेडकर की भूमिका” विषय पर निबन्‍ध प्रतियोगिता का आयोजन किया गया. इसी प्रकार के कार्यक्रम सभी परियोजना कार्यालयों व यूनिटों में भी किया जा रहा है.

उल्‍लेखनीय है कि भारत गणराज्य का संविधान 26 नवम्बर 1949 को बनकर तैयार हुआ था. संविधान निर्माण प्रारूप समिति के अध्यक्ष डॉ॰ भीमराव अम्बेडकर के 125वें जयंती वर्ष के रूप में भारत सरकार द्वारा पहली बार 26 नवम्बर 2015 को संविधान दिवस मनाया. भारत में 26 जनवरी 1950 से संविधान अमल में लाया गया. यह दिन संविधान के महत्व का प्रसार करने और डॉ॰ भीमराव अम्बेडकर के विचारों और अवधारणाओं का प्रसार करने के लिए चुना गया था.