मूडीज के बाद आज S&P भी सुधारेगा भारत की रेटिंग? आज होगा फैसला

पिछले दिनों मूडीज की रेटिंग के बाद आज एक और रेटिंग आने वाली है. अमेरिकी कंपनी स्टैंडर्ड एंड पुअर्स (एसएंडपी) शुक्रवार को भारत की सोवरिल रेटिंग जारी करने वाली है. माना जा रहा है कि एक बार फिर देश और मोदी सरकार के लिए रेटिंग के जरिए अच्छी खबर आ सकती है.

क्या है इस रेटिंग की अहमियत
स्टैंडर्ड एंड पुअर्स में अगर रेटिंग सुधरती है तो फिर विदेशी निवेशकों का भारत पर विश्वास और बढ़ेगा और विदेशी निवेशक खुलकर निवेश कर सकेंगे. इसके अलावा घरेलू निवेशक भी पैसा लगाने के लिए प्रोत्साहित होंगे, रुपया और मजबूत हो सकता है. एस एंड पी में पिछले वर्ष भारत की रेटिंग ‘बीबीबी- नगेटिव’थी और यह रेटिंग निवेश के मामले में आखिरी रेटिंग होती है. इस रेटिंग की वजह भारत में प्रति व्यक्ति आय का कम होना था.

वर्ल्ड बैंक ने दी टॉप 100 में जगह
हाल ही में विश्व बैंक ने कारोबार के लिए माहौल के मामले मे भारत को शीर्ष 100 देशों में जगह दी. भारत की रैकिंग 130 से सुधरकर 100 हुई. एस एंड पी में रेटिंग में अगर कोई बदलाव नहीं होता है सिर्फ स्थिर से सकारात्मक कर दिया तो भी ये अच्छी खबर है. इसके मुताबिक भारत की रेटिंग अगली समीक्षा में बढ़ सकती है. बदलाव का मतलब सुधार कार्यक्रम की रफ्तार ठीक है लेकिन उसे और तेज करने की जरुरत है.

क्या है स्टैंडर्ड एंड पुअर्स
स्टैंडर्ड एंड पूअर्स एक अमेरिकी फाइनेंस सर्विस कंपनी है. कंपनी पिछले 150 वर्षों से स्टॉक और बांड पर वित्तीय रिसर्च करती है और फिर वित्तीय रिसर्च का विश्लेषण प्रकाशित करती है. एसएंडपी दुनिया की तीन वित्तीय श्रेणी-निर्धारण एजेंसियों में से एक है जैसे मूडीज इन्वेस्टर सर्विस और फिच रेटिंग्स है.