मुलाकात के दौरान कुलभूषण जाधव के परिवार को सुरक्षा दे पाक : भारत

पाकिस्तान ने अपनी जेल में बंद भारतीय कैदी कुलभूषण जाधव की पत्नी के  आवेदन को स्वीकार कर लिया है. जिसमें उन्होंने जाधव से मिलने की इजाजत मांगी थी. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने बताया कि लंबे इंतजार के बाद पाकिस्तान ने जाधव की पत्नी के उस आवेदन को स्वीकार कर लिया है जिसमें उन्होंने जाधव से मिलने की इजाजत मांगी थी..

हमने पाकिस्तान को बताया है कि जाधव की पत्नी अपनी सास के साथ वहां जाएंगी. इस दौरान पाकिस्तान को इस बात की गारंटी लेनी होगी कि इन्हें किसी प्रकार से प्रताड़ित नहीं किया जाएगा. इनसे कोई पूछताछ नहीं होगी.

इसके अलावा जाधव की पत्नी और सास के साथ हर समय इस्लमाबाद स्थित भारतीय उच्चायोग का एक राजनयिक मौजूद रहेगा. तब भी जब जाधव और उनकी पत्नी के बीच मुलाकात होगी. प्रवक्ता ने बताया कि पाकिस्तान के प्रस्ताव पर हमारा रुख सकारात्मक है. हम जाधव की पत्नी को भेजने के लिए तैयार हैं. हालांकि भारत के प्रस्ताव पर अब तक पाकिस्तान की ओर से कोई जवाब नहीं आया है.

भारत ने कई बार मानवीय आधार पर जाधव की मां को उनसे मिलने के लिए वीजा प्रदान करने का आग्रह किया है.इसके अलावा इस मुलाकात के दौरान इन दोनों महिलाओं के साथ इस्लामाबाद में भारतीय उच्चायोग के एक राजनयिक को साथ जाने की अनुमति दी जाए.तब भी जब जाधव और उनकी पत्नी के बीच मुलाकात होगी.प्रवक्ता ने बताया कि पाकिस्तान के प्रस्ताव पर हमारा रुख सकारात्मक है.

हम जाधव की पत्नी को भेजने के लिए इच्छुक हैं. हालांकि भारत के प्रस्ताव पर अब तक पाकिस्तान की ओर से कोई जवाब नहीं आया है. आपको ये बतादें कि पाकिस्तान की एक सैन्य अदालत ने अप्रैल में 46 वर्षीय जाधव को जासूसी और आतंकी गतिविधियों में कथित तौर पर संलिप्त होने के आरोप में मौत की सजा सुनाई थी. इसके बाद मई में भारत की अपील पर अंतरराष्ट्रीय न्यायालय ने उनकी फांसी पर रोक लगा दी थी.