एन0सी0सी0 कैडेटों व अधिकारियों के भत्ते बढे, अब प्रतिदिन 30 की जगह मिलेंगे 125 रूपए

NCC कैडेट (फाइल चित्र)

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत के निर्देशों के क्रम में राज्य में एन0सी0सी0 प्रशिक्षिण शिविरों में प्रयुक्त होने वाले वाहनों हेतु अनुमन्य पेट्रोल दर, सहयोगी एन0सी0सी0 अधिकारियों को अनुमन्य मानदेय की धनराशि एवं एन0सी0सी0 प्रशिक्षण शिविरों में भाग लेने वाले सहयोगी एन0सी0सी0 अधिकारियों(ए0एन0ओ0) एवं एन0सी0सी0 कैडेटों की रेल/सड़क यात्रा के दौरान अनुमन्य दैनिक भत्तों की दरों को पुनरीक्षित किया गया है. शासन द्वारा इस बावत जी.ओ. भी जारी कर दिये गए हैं.

इस सम्बन्ध में सचिव डॉ. भूपिन्दर कौर औलख द्वारा जारी आदेशों में स्पष्ट किया गया है कि एन0सी0सी0 कैडेटों के वार्षिक प्रशिक्षण शिविर हेतु प्रति कैडेट निर्धारित पेट्रोल व्यय की वर्तमान दर रू0 55 को पुनरीक्षित कर 2 लीटर व अनुमन्य लुब्रीकेन्ट(लुब्रीकेन्ट-पेट्रोल/डीजल की मात्रा का 6 प्रतिशत) निर्धारित किया गया है. इसी प्रकार सेन्ट्रली आर्गनाइज्ड शिविर हेतु प्रति कैडेट निर्धारित पेट्रोल व्यय की वर्तमान दर रू080 को पुनरीक्षित कर 3 लीटर व अनुमन्य लुब्रीकेन्ट निर्धारित किया गया है. यह व्यय केन्द्र एवं राज्य सरकार द्वारा 75: 25 के अनुपात में वहन किया जाएगा.

उन्होंने बताया कि सहयोगी एन0सी0सी0 अधिकारियों को अनुमन्य मानदेय की दरों में भी बढोत्तरी की गई. सीनियर डिवीजन में लेफ्टिनेन्ट, कैप्टन एवं मेजर को देय वर्तमान दरों क्रमशः 900, 1000, 1100 को बढ़ाकर 2000, 2500, 3000 कर दिया गया है. इसी प्रकार जूनियर डिवीजन में थर्ड ऑफिसर, सेकेण्ड ऑफिसर, फस्र्ट ऑफिसर एवं चीफ ऑफिसर की देय वर्तमान दरों क्रमशः 700, 750, 800 एवं 850 को बढ़ाकर 1800, 2000, 2200 एवं 2500 कर दिया गया है. इस मानदेय पर आने वाला व्यय 50: 50 के अनुपात में भारत सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा वहन किया जाएगा.

जबकि एन0सी0सी0 प्रशिक्षण शिविरों में भाग लेने वाले सहयोगी एन0सी0सी0 अधिकारियों हेतु अनुमन्य रेल/सड़क यात्रा के दौरान दैनिक भत्ते की वर्तमान दर रू035 को बढ़ाकर 130 रूपए प्रतिदिन कर दिया गया है. इसी प्रकार एन0सी0सी0 प्रशिक्षण शिविरों में भाग लेने वाले एन0सी0सी0 कैडेट हेतु अनुमन्य रेल/सड़क यात्रा के दौरान दैनिक भत्ते की वर्तमान दर रू030 को बढ़ाकर 125 रूपए प्रतिदिन कर दिया गया है. यह व्यय केन्द्र एवं राज्य सरकार द्वारा 75ः25 के अनुपात में वहन किया जाना है.