प्रद्युम्न हत्याकांडः अशोक की पत्नी का आरोप, पुलिस ने मारपीट कर जुर्म कबूल कराया

गुरुग्राम, रेयान स्कूल के छात्र प्रद्युम्न की हत्या के आरोप में जेल में बंद बस कंडक्टर अशोक को गुरुग्राम की अदालत से जमानत मिल गई है. इसके बाद अशोक अपने गांव घामडौज पहुंचा है.यहां पहुंचने के बाद अशोक ने मीडिया इसके लिए धन्यवाद दिया और कहा कि वो काफी तकलीफ में है.

वहीं अशोक की पत्नी ने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहां कि उन्होंने अशोक को मारपीट कर जुर्म कबूल करवाया गया था.बस कंडक्टर अशोकउन्होंने यह भी कहा कि पुलिस ने अशोक को तरह-तरह की यातनाएं दीं, कभी उल्टा लटकाया तो कभी बेरहमी से पीटते. यहां तक कि कई बार उसे उत्तेजित तक किया.

बता दें कि 75 दिन जेल में रहने के बाद अशोक अपने घर पहुंचा है. मामले की जांच कर रही सीबीआई पर उसे पूरा भरोसा है.