यूथ कांग्रेस ने चाय वाले के रूप में पीएम मोदी का बनाया मजाक, बीजेपी का विरोध

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी -फाइल फोटो

कांग्रेस को पीएम मोदी का मजाक बनाना खुद भारी पड़ गया. कांग्रेस के यूथ विंग ने एक पोस्ट के जरिए पीएम नरेंद्र मोदी को एक चाय वाले के रूप में पेश कर मजाक बनाना चाहा, लेकिन वह खुद अपने ही बुने जाल में फंस गए. मंगलवार को पार्टी के यूथ विंग ने पीएम मोदी, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे की फोटो पर आधारित एक मीम पोस्ट किया. इस मीम में पीएम मोदी के चाय बेचने पर मजाक उड़ाने की कोशिश की गई है. इसे लेकर अब भाजपा के तेवर कड़े दिख रहे हैं.

कांग्रेस यूथ विंग की ओर से जारी मीम में पीएम मोदी सहित ट्रंप और थेरेसा नजर आ रही हैं. इस आपत्तिजनक तस्वीर में ये दिखा गया है कि पीएम मोदी दोनों से कहते हैं- आप लोगों ने देखा विपक्ष कैसे-कैसे मेरे खिलाफ मेमे बनवाता है. इसके जवाब में ट्रंप को ये कहते दिखाया गया है कि उसे मेमे नहीं बल्कि मीम कहते हैं. इसके बाद थेरेसा मे पीएम मोदी को चाय बेचने की सलाह देती हुईं कहती देखी जाती हैं.

कांग्रेस यूथ की इस हरकत पर सत्तारूढ़ पार्टी ने कहा कि यह आपत्तिजनक पोस्ट (अब डिलीट किया जा चुका है) कांग्रेस की सामंति मानसिकता को प्रदर्शित करती है और अगले महीने होने वाले गुजरात चुनाव में इस पोस्ट से गुस्से में आने वाले लोग भाजपा को जीता कर इसका बदला ले लेंगे.

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने ट्वीट कर कांग्रेस पर हमला बोला और लिखा कि “मैडम सोनिया गांधी और राहुल गांधी क्या आप अभी भी मानते हैं कि केवल आपको ही भारत पर शासन करने का एक दिव्य अधिकार है? देश को कांग्रेस के यूथ विंग के उस ट्वीट पर आपकी प्रतिक्रिया की उम्मीद है, जो शर्मनाक है और गरीबों के लिए अपमानजनक है. आप इस ट्वीट को डीलीट कर सकते हैं, मगर ये ट्वीट आपकी गरीबों के प्रति सोच को उजागर करती है.

वहीं, इस मामले पर कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि “पार्टी इस तरह के हास्यप्रद चीजों को खारिज करती है और अपनी नामंजूरी जताती है. उन्होंने ट्वीट में ये भी कहा कि नीतियों और विचारों के इतर कांग्रेस की संस्कृति प्रधानमंत्री और सभी विरोधी पार्टियों के सम्मान करने की रही है.”

बता दें कि 2014 में लोकसभा चुनाव में प्रचंड जीत हासिल करने से पहले नरेंद्र मोदी एक चाय बेचने वाले के रूप में फेमस थे. उस वक्त कांग्रेस नेत मणिशंकर अय्यर ने एक विशाल पार्टी सम्मेलन में कहा था कि चाय बेचने वाला कभी पीएम नहीं बन सकता. उन्होंने कहा था कि नरेंद्र मोदी कभी देश के प्रधानमंत्री नहीं बन सकते. लेकिन अगर वो यहां चाय बेचना चाहते हैं तो हम उनके लिए जगह मुहैया करा देंगे.

चुनाव अभियान के दौरान पीएम मोदी बार-बार ये कहते थे कि वो खुद से नेता बने हैं. हर सभा में कहा करते थे कि बचपन में वो अपने परिवार की सहायता के लिए ट्रेनों में चाय बेचा करते थे. यही नहीं, वो समय-समय पर परिवारवाद को लेकर राहुल गांधी पर निशाना भी साधते थे.