मोदी सरकार के आर्थिक सुधारों के साथ मूडीज, 13 साल बाद बढ़ाई भारत की रेटिंग

नई दिल्‍ली, इंटरनेशनल क्रेडिट रेटिंग एजेंसी सर्विस मूडीज ने भारत में आर्थिक सुधारों पर मुहर लगाते हुए 13 साल बाद भारत की सॉवरेन रेटिंग बढ़ाई है. मूडीज ने इसका आउटलुक भी पॉजिटिव से स्‍थिर कर दिया है. रोचक बात यह कि इससे पहले अटल बिहारी बाजपेयी के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार के तहत ग्‍लोबल रेटिंग में बढ़त हुई थी.

मूडीज ने भारत सरकार के बॉन्ड की रेटिंग BAA3 से बढ़ाकर BAA2 कर दी है. देश में हो रहे लगातार आर्थिक सुधार के चलते यह रेटिंग बढ़ाई गई है. BAA3 यह सबसे कम निवेश वाली स्थिति को दर्शाता है. इस रेटिंग में बदलाव यानि मूडीज के अनुसार भारत में निवेश का माहौल सुधरा है. इसलिए रेटिंग को BAA3 से बढ़ाकर BAA2 कर दिया है.

मूडीज का कहना है कि आर्थिक सुधारों से तेज ग्रोथ को बढ़ावा मिलेगा. वित्त वर्ष 2018 में जीडीपी ग्रोथ 6.7 फीसदी और वित्त वर्ष 2019 में 7.5 फीसदी रहने की संभावना है. वित्त वर्ष 2020 के बाद ग्रोथ की रफ्तार में तेज बढ़त संभव है.
मूडीज द्वारा रैंकिंग में सुधार भारत द्वारा किए जा रहे आर्थिक और सांस्थानिक सुधारों के कारण हुआ है. और इसके शार्ट टर्म लोकल करेंसी की रेटिंग भी P-2 से P-3 कर दिया है.