रुड़की : बारात लाए दुल्हे से शादी से किया इनकार, प्रेमी संग पढ़ाया निकाह

रुड़की, लक्सर क्षेत्र की युवती अपनी बारात आने के एक घंटे पहले घर से भाग गई. बाद में युवती रुड़की में मिल तो गई, पर उसने शादी करने आए दुल्हे के बजाय गांव के ही अपने प्रेमी से निकाह पढ़वाने की शर्त रख दी. शर्त मानकर उसे घर लाने के बाद दोनों पक्षों की सहमति से प्रेमी-प्रेमिका का निकाह पढ़वा दिया गया है.

लक्सर के मुंडाखेड़ा खुर्द गांव में एक युवती का गांव के ही एक सजातीय युवक के साथ सालों से प्रेम प्रसंग चल रहा था. पिछले दिनों युवक और युवती के कुछ फोटो तथा मोबाइल पर हुई उनकी बातचीत की रिकार्डिंग सोशल मीडिया पर वायरल हो गई थी.

इस पर गांव में हुई बिरादरी की पंचायत में तय हुआ कि युवती का किसी दूसरे लड़के से निकाह पढ़वाया जाएगा तथा निकाह का पूरा खर्च बतौर जुर्माना प्रेमी युवक का परिवार अदा करेगा. इसके बाद युवती के परिजनों ने दिल्ली के एक युवक से उसकी शादी तय कर दी. निर्धारित कार्यक्रम के मुताबिक सोमवार सुबह 6 बजे युवती की बारात मुंडाखेड़ा पहुंच गई. इससे एक घंटा पहले ही युवती घर से फरार हो गई. सुबह इसकी जानकारी मिलते ही परिजनों की टेंशन बढ़ गई.

उन्होंने उसकी तलाश की तो वह रुड़की के एक मॉल में खरीदारी करती हुई मिल गई. उसने घर चलने से पहले दिल्ली से आए अपने दुल्हे के बजाय गांव के प्रेमी संग ही निकाह पढ़वाने की शर्त रख दी. आखिकार परिजनों ने मजबूर होकर उसकी शर्त मान ली और उसे गांव ले आए. इसके बाद दोनों के परिजनों और गांव के जिम्मेदार लोगों ने फिर से पंचायत की.

पंचायत में प्रेमी और प्रेमिका की शादी कराने का निर्णय लिया गया. इसके बाद गांव में दोनों का निकाह पढ़वा दिया गया. उधर, दिल्ली से आई बारात के लोगों को पूरी बात बताकर शाम को उन्हें भी बिना दुल्हन के ही वापस भेज दिया गया.