करना कुछ है नहीं और जो कर रहा है उससे सवाल पूछे जा रहे: पीएम मोदी

नई दिल्ली, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को प्रवासी भारतीय केंद्र में ‘भारतीय बिजनेस रिफॉर्म’ कार्यक्रम में शामिल हुए. इस दौरान उन्होंने लोगों को संबोधित करते हुए कहा, “और क्या काम है मेरे पास बस एक ही काम है-ये देश, मेरे देश के सवा सौ करोड़ लोग और उनके जीवन में बदलाव लाना.” पीएम मोदी ने कहा कि भारत आज वहां पहुंच चुका है जहां से आगे बढ़ना और आसान है. उन्होंने कहा, ”और क्या काम है मेरे पास, बस एक ही काम है-ये देश… मेरे देश के सवा सौ करोड़ लोग और उनके जीवन में बदलाव लाना.”

उन्होंने कहा कि वर्ल्ड बैंक की इस रैंकिंग पर सवाल उठाने की जगह हम न्यू इंडिया बनाने के लिए आगे बढ़ें. कुछ लोगों को भारत का 142 से 100वीं रैंक पर पहुंचना अच्छा नहीं लग रहा है. हम एक युवा देश हैं और रोजगार देना एक अवसर है साथ ही साथ यह एक चुनौती भी है. पीएम नरेंद्र मोदी ने बताया कि फॉरेन डायरेक्ट इनवेस्टमेंट में हम सबसे आगे हैं. हमने बिजनेसमैन लोगों के दुख दर्द और चिंताओं को समझा है. उन्हें दूर करने की कोशिश की है. टेक्नॉलजी की मदद से बिजनेस करना आसान करने की कोशि‍श की है.

पीएम का कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा, ”करना कुछ नहीं और जो कर रहा है उससे सवाल पूछते जा रहे हैं. जो लोग पहले वर्ल्ड बैंक में रह चुके हैं वे भी भारत की रैंकिंग पर आज सवाल उठा रहे हैं. मैंने आजतक वर्ल्ड बैंक की बिल्डिंग तक नहीं देखी जबकि पहले यहां वर्ल्ड बैंक को चलाने वाले लोग बैठा करते थे. यदि इंसोलवेंसी/बैंकक्रप्सी कोड जैसे सुधार आपके समय में होते तो ये शुभयोग आपके हिस्से ना आता क्या?”