एनटीपीसी हादसा : योगी सरकार को एनएचआरसी का नोटिस, 6 हफ्ते में मांगी विस्तृत रिपोर्ट

गुरुवार को राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) ने रायबरेली के ऊंचाहार स्थित नेशनल थर्मल पावर कारपोरेशन (एनटीपीसी) के प्लांट में हुए हादसे पर योगी सरकार को नोटिस जारी किया है. एनएचआरसी ने 6 हफ्ते में विस्तृत रिपोर्ट मांगी है.

एनएचआरसी ने प्रदेश सरकार को निर्देश देते हुए कहा है कि मामले में किसी भी तरह की कोई कोताही नहीं बरती जानी चाहिए. यही नहीं सरकार यह सुनिश्चित करे कि मृतकों के परिजनों को बिना किसी देरी के समुचित आर्थिक सहायता मुहैया करवाई जाए.

एनएचआरसी ने हादसे में घायलों के इलाज को लेकर भी निर्देश जारी किए हैं. आयोग ने सरकार से कहा है कि यह सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि घायलों को बेहतर से बेहतर चिकित्सा सुविधा मुहैया हो. इतना ही नहीं उनके पुनर्वास के लिए भी कारगार कदम उठाए जाएं.

इससे पहले केंद्रीय उर्जा मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) आरके सिंह भी गुरुवार को रायबरेली पहुंचे और पीड़ितों से मुलाकात की. सिंह ने एनटीपीसी परिसर का मुआयना भी किया. आरके सिंह ने बताया कि मामले की जांच के लिए 3 सदस्यीय कमेटी का गठन कर दिया गया है. जांच कमेटी एक महीने में अपनी रिपोर्ट सौंपेगी.

बता दें बुधवार दोपहर 3.40 बजे एनटीपीसी के एक यूनिट में बॉयलर फटने से दर्दनाक हादसा हुआ. इस हादसे में अब 30 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 60 से ज्यादा लोग घायल हैं. घायलों का इलाज लखनऊ के सिविल हॉस्पिटल, केजीएमयू और पीजीआई में चल रहा है. इसके अलावा कुछ घायलों को एयर एम्बुलेंस से दिल्ली भी रेफर किया गया है.