जानिए, शराब पीने के बाद अंग्रेजी क्यों बोलते हैं लोग?

अक्सर ऐसा देखने को मिल जाता है कि शराब पीने के बाद लोग अग्रेजी में बोलने लगते हैं या फिर ज्ञानी बनने लगते हैं. लोगों में शराब पीने के बदलने वाले इस व्यवहार को लेकर एक अध्ययन किया गया. जिसमें खुलासा हुआ है कि आखिर क्यों लोग शराब पीने के बाद आसानी से अंग्रेजी या दूसरी विदेशी भाषा बोलने लगते हैं.

साइंस मैगज़ीन ‘जर्नल ऑफ़ साइकोफ़ार्माकोलॉजी’ में छपे एक अध्ययन के मुताबिक थोड़ी सी शराब किसी दूसरी भाषा में बोलने में मदद करती है. शोध में पता चला है कि शराब हमारी याददाश्त और ध्यान केंद्रित करने की क्षमता पर असर डालती है. फिर भी दूसरी तरफ ये हमारी हिचकिचाहट भी दूर करती है, हमारा आत्म-विश्वास बढ़ाती है और मन में उठे किसी संकोच को कम करती है.

नीदरलैंड के मस्ट्रिक्ट यूनिवर्सिटी, लंदन के लिवरपूल विश्वविद्यालय और किंग्स कॉलेज के शोधकर्ताओं ने इस अध्ययन का टेस्ट भी किया. टेस्ट के लिए हाल ही में डच भाषा सिखने वाले 50 जर्मन लोगों को इस भाषा में बात करने के लिए चुना गया. कुछ लोगों को बिना बताए पीने के लिए ड्रिंक में थोड़ी शराब दी गई. इनमें से कुछ के ड्रिंक्स में एल्कोहल नहीं था. जांच में ये पता चला कि जिन्होंने शराब पी रखी थी वे बेहतर उच्चारण के साथ डच भाषा में बात कर रहे थे.