अगले महीने से ये तीन चीजें महंगी हो जायेंगी

फ्रिज, एसी और वॉशिंग मशीन अगले महीने 3-5 प्रतिशत तक महंगे हो सकते हैं. हाई इनपुट कॉस्ट के चलते वाइट गुड्स कंपनियों पर दबाव बना है. कन्ज्यूमर्स पर प्राइस हाइक का असर दिसंबर से ज्यादा दिखेगा क्योंकि रिटेलर्स के पास फिलहाल दिवाली में बिना बिका सामान पड़ा है. इंडस्ट्री के तीन सीनियर एग्जिक्युटिव्स ने कहा कि ऊंचे रेट पर फ्रेश स्टॉक खरीदने से पहले कंपनियां पुराना स्टॉक क्लीयर करेंगी. लगभग 30 से 50 प्रतिशत तक उछाल आ चुकी है. स्टील का दाम तब से अब तक 40 प्रतिशत चढ़ चुका है जबकि कॉपर 50 प्रतिशत महंगा हुआ है. ग्लोबल मार्केट में शॉर्टेज होने के चलते अहम केमिकल MDI का दाम डबल हो गया है. MDI खासतौर पर फ्रिज के लिए फोम बनाने के काम आता है.

गोदरेज अप्लायंसेज के बिजनस हेड कमल नंदी ने कहा, ‘लगभग 70 प्रतिशत इनपुट कॉस्ट इन्हीं तीन प्रॉडक्ट्स की होती है. इससे प्रॉडक्ट्स की लागत 5-6 प्रतिशत बढ़ी है. हालांकि कुछ बोझ खुद उठाएंगे और बाकी कस्टमर्स पर डालेंगे. यह काम भी चरणबद्ध तरीके से होगा क्योंकि बाजार में खास तेजी नहीं है.’ नंदी ने कहा कि अगले महीने फ्रिज महंगा होगा. फिर वॉशिंग मशीन और अंत में जनवरी में एसी की बारी आएगी. वाइट गुड्स मेकर एलजी इलेक्ट्रॉनिक्स इंडिया और उसकी प्रतिद्वंदी सैमसंग भी इंडस्ट्री की बाकी कंपनियों की तरह प्राइस हाइक की प्लानिंग में लगी हैं. ईटी को यह बात एक रिटेल चेन के हेड ने बताई.

सैमसंग ने प्राइस हाइक की कोई योजना होने से इनकार किया है जबकि एलजी को इस बारे में डिटेल के लिए भेजे गए ईमेल का जवाब खबर लिखे जाने तक नहीं मिल पाया था. आने वाले महीनों में 4 और 5 स्टार एसी का दाम भी बढ़ सकता है क्योंकि सरकार ने जनवरी से इंडियन सीजनल एनर्जी एफिसिएंसी रेशियो वाली नई रेटिंग को जरूरी कर दिया है. इसके अलावा इनवर्टर एसी और सस्ते फिक्स्ड स्पीड एसी मॉडल्स की भी ऐसी ही रेटिंग हुआ करेगी. इसके चलते मौजूदा फाइव स्टार फिक्स्ड स्पीड एसी जनवरी से नए सिस्टम में थ्री स्टार हो जाएंगे. एक दिग्गज एसी मैन्युफैक्चरिंग कंपनी के हेड ने कहा, ‘फोर और फाइव स्टार फिक्स्ड एसी मैन्युफैक्चरर की लागत बढ़ेगी और इस तरह के एसी के दाम बढ़ेंगे, लेकिन इनवर्टर एसी और इनका प्राइस डिफरेंस घट सकता है.

ऐसे में नए नॉर्म्स के तहत ऐसे ज्यादा फोर और फाइव स्टार एसी मॉडल्स बनाकर बेचना फाइनैंशल तौर पर फायदेमंद नहीं रह जाएंगे.’कन्ज्यूमर्स पुराने मॉडल्स पर कुछ डिस्काउंट मिलने की उम्मीद कर सकते हैं क्योंकि रिटेलर्स के पास बड़े पैमाने पर दिवाली का बिना बिका माल पड़ा हुआ है. मुंबई की शॉपिंग चेन कोहिनूर के एग्जिक्युटिव डायरेक्टर विशाल मेवानी के मुताबिक, ‘रिटेलर्स को बिना बिका माल डिस्काउंट पर निकालना होगा. एंट्री और मिड सेगमेंट प्रॉडक्ट्स की डिमांड ज्यादा प्रभावित हुई क्योंकि दिवाली में ज्यादातर प्रीमियम मॉडल बिकते हैं.’