भारत-न्यूजीलैंड तीसरा वनडे आज : जो जीतेगा वही बनेगा सीरीज का सिकंदर

कानपूर, रविवार को भारतीय टीम न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज के निर्णायक मुकाबले में उसी संयम और जज्बे से मैदान पर उतरेगी, जो उसने दूसरे वनडे मैच में दिखाया था. तीन मैचों की सीरीज के पहले वनडे में हार से लंबे समय बाद दबाव में आए भारतीय खिलाड़ियों ने दूसरे वनडे में शानदार जज्बा दिखाया और बेहतरीन प्रदर्शन कर 1-1 से बराबरी हासिल की.कप्तान विराट कोहली और उनकी टीम चुनौतियों के लिए तैयार हैं और वे जब ग्रीनपार्क स्टेडियम पर मैदान पर उतरेंगे तो लगातार 7वीं वनडे सीरीज अपने नाम करने के लिए बेताब होंगे, जहां दूधिया रोशनी में पहला 50 ओवर का मैच खेला जाएगा.

कोहली ने न्यूजीलैंड पर दूसरे वनडे में मिली 6 विकेट की जीत के बाद कहा कि हम चुनौतियों के लिए तैयार हैं. हमने वापसी करने की बात की थी और हमने यहां पुणे में वापसी की. हम कानपुर में भी इसी तरह का खेल दिखाने की कोशिश करेंगे. दोनों टीमें गुरुवार को यहां पहुंच गई थीं जिससे उन्हें यहां के हालात के अनुरूप ढलने का काफी समय मिल गया, जहां अब थोड़ी ठंडक है.

पुणे में भारतीय टीम ने रणनीति का अच्छी तरह कार्यान्वयन किया, विशेषकर गेंदबाजी में जिसमें फॉर्म में चल रहे तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह शुरू में और अंतिम ओवरों में अपनी जिम्मेदारी बखूबी निभा रहे हैं. स्पिनरों ने मुंबई में 1 दिन के आराम के बाद अच्छी वापसी की. युजवेंद्र चहल पहले मैच में 1 भी विकेट हासिल नहीं कर सके थे, लेकिन बाद में उन्होंने 2 विकेट झटके जबकि ‘चाइनामैन’ कुलदीप यादव की जगह उतारे गए अक्षर पटेल ने फॉर्म में चल रहे टाम लाथम के रूप में विकेट प्राप्त किया.

कामचलाऊ गेंदबाज केदार जाधव ने 8 ओवर गेंदबाजी की और महज 31 रन गंवाए. कोहली हालांकि विजयी संयोजन में छेड़छाड़ नहीं करना चाहेंगे लेकिन यह देखना होगा कि यादव को रविवार को अपने घरेलू दर्शकों के सामने खेलने का मौका मिलता है या नहीं?जहां तक बल्लेबाजी की बात है तो पुणे में भारत के लिए सबसे बड़ी सकारात्मक चीज दिनेश कार्तिक का चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए नाबाद 64 रनों की पारी खेलना रही. टीम प्रबंधन ने 2015 विश्व कप के बाद से चौथे नंबर के स्थान के लिए कम से कम 11 खिलाड़ियों को आजमाया है और कार्तिक ने निश्चित रूप से इस स्थान पर आगे बढ़ने की दावेदारी के लिए काफी अच्छा कर दिया है.

उन्होंने सीरीज के शुरुआती मैच में 5वें नंबर पर बल्लेबाजी की लेकिन उन्होंने खुद ही कहा कि चौथा स्थान उनका पसंदीदा है. शिखर धवन ने 6 पारियों के बाद अर्द्धशतक से ज्यादा का स्कोर बनाया, जो भारत के लिए अच्छी खबर थी. इस बल्लेबाज ने गेंद को खूबसूरती से खेला और वे रविवार के मुकाबले में भी अच्छी शुरुआत दिलाने की उम्मीद करेंगे.