OLA ड्राइवर ने कैंसिल की राइड, कंपनी ने उपभोक्ता को भिजवाए 2 समोसे

आपको कहीं जाना है और आप कैब बुक करते हैं, लेकिन अगर ड्राइवर राइड कैंसिल कर दे तो कैंसिलेशन फीस आपको भरनी पड़ती है. आए दिन जो लोग कैब बुक कराते रहते हैं उन्‍हें अकसर ऐसी समस्या से दो-चार होना पड़ता है. लेकिन जब ऐसा ही कुछ गुड़गांव के एक शख्‍स के साथ हुआ तो उसने श‍िकायत करने के बजाए एक नायाब तरीका निकाला. इसका फायदा भी हुआ और बदले में उसे ईनाम भी म‍िला.

दरअसल, 21 अक्‍टूबर को अभ‍िषेक अस्‍थाना ने अपने भाई के साथ एयरपोर्ट जाने के लिए ओला कैब बुक कराई, लेकिन ड्राइवर ने राइड कैंसिल कर दी. नतीजतन उन्‍हें कैसिंलेशन फीस का भुगतान करना पड़ा. अभ‍िषेक ने इस वाकए को लेकर ट्विटर पर एक मजेदार ट्वीट किया. उन्‍होंने लिखा, ‘कल ओला ने मुझसे कैंसिलेशन फीस ले ली, जबकि राइड ड्राइवर ने कैंसिल की थी. ये तो वही बात हो गई कि ‘आपने दुकानदार से पूछा समोसा है?’ इस पर दुकानदार कहे ‘नहीं’ और फिर 10 रुपये भी ले ले.’

अभ‍िषेक के इस ट्वीट पर कैब कंपनी ओला हरकत में आई और उसने न सिर्फ कैंसिलेशन फीस वापस कर दी, बल्‍कि एक कदम और आगे बढ़ते हुए कमाल ही कर दिया. कंपनी ने ट्वटी किया, ‘चार्ज वापस कर दिया है और आपको हुई परेशानी के लिए माफी चाहते हैं. अब हम समोसे कहां भेजें?’

इसके बाद ओला ने वाकई में अभ‍िषेक और उनके भाई के लिए दो समोसे भिजवाए वो भी उनके घर पर.

कई ट्विटर यूजर ने ओला कंपनी की तारीफ की, वहीं कुछ लोगों को लगता है कि अभ‍िषेक को इससे भी अच्‍छी डील मिल सकती थी:

जैसे इन जनाब को लगता है कि अभिषेक को अपनी कहानी समोसे की बजाए आईफोन का उदाहरण देकर पेश करनी चाहिए थी.

इन्हें लगता है कि उन्हें ज्वैलरी का उदाहरण देना चाहिए था, आज अभिषेक के पास सोने की अंगूठी होती.

लगता है इन साहब को जर्मन चॉकलेट पेस्ट्रीज खास पसंद हैं.

अब तो आपको पता चल गया होगा कि अगली बार जब आपके साथ ऐसा कुछ होगा तो आपको क्‍या करना है.