अब घर बैठे करें मोबाइल से आधार नंबर लिंक, यह रहे सारे स्टेप्स

मोबाइल आधार लिंक

मोबाइल नंबर को आधार से लिंक करवाना अब आसान होने जा रहा है. इससे बायॉमेट्रिक वेरिफिकेशन की बाध्यता का पेच हटा दिया गया है. टेलिकॉम मिनिस्ट्री के सूत्रों का कहना है कि मोबाइल यूजर्स घर बैठे सिर्फ वन टाइम पासवर्ड (OTP) के जरिए आधार से लिंक कर सकेंगे. अब सर्विस प्रोवाइडर अपनी वेबसाइट पर आधार कनेक्ट करने का ऑप्शन देगा.

यहां आधार नंबर डालते ही उसमें दर्ज मोबाइल नंबर पर OTP आ जाएगा. OTP को भरते ही आधार-मोबाइल कनेक्ट करने की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी. ध्यान रहे आधार को मोबाइल से कनेक्ट करवाने की आखिरी तारीख फरवरी 2018 है. इस नई सुविधा के 2 हफ्ते के भीतर शुरू होने की उम्मीद है.

बुजुर्ग या लाचार शख्स के लिए सर्विस प्रोवाइडर एक प्रतिनिधि को घर भेजेगा. कंपनी की वेबसाइट पर इसका ऑप्शन होगा. वहां पर घर बुलाने के लिए आधार नंबर डालना होगा. फिर प्रतिनिधि के पहुंचने की तारीख बता दी जाएगी. दरअसल बुजुर्गों को सर्विस प्रोवाइडर के सेंटर पर जाने में दिक्कत होती थी.

वहां जाने के बाद भी कभी-कभी बायॉमेट्रिक री-वेरिफिकेशन नहीं हो पाती थी क्योंकि मशीन को बुजुर्गों के फिंगर प्रिंट को पढ़ने में दिक्कत होती थी. सूत्रों के मुताबिक सरकार ने टेलिकॉम कंपनियों को अपने सेंटरों पर फिंगर प्रिंट स्कैनिंग के अलावा आंखों की पुतलियों के जरिए री-वेरिफिकेशन करने वाली डिवाइस लगाने को भी कहा है.

जिनका मौजूदा मोबाइल नंबर आधार में रजिस्टर्ड नहीं है, उन्हें स्टोर पर जाकर बायोमीट्रिक वेरिफिकेशन कराना होगा. हालांकि सूत्रों के मुताबिक ऐसी व्यवस्था के बारे में भी विचार किया जा रहा है कि यदि किसी शख्स का एक मोबाइल नंबर आधार डेटाबेस में पंजीकृत है तो OTP तरीके का इस्तेमाल उस नंबर के पुन: सत्यापन के अलावा उस शख्स के अन्य नंबरों के सत्यापन के लिए भी किया जा सकता है. फिलहाल 50 करोड़ से ज्यादा मोबाइल नंबर आधार डेटाबेस में पंजीकृत हैं.