आज लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस वे पर ‘टच डाउन’ करेंगे एयरफोर्स के विमान

मंगलवार को भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमान लखनऊ-आगरा एक्सप्रैस-वे पर जब हवाई कलाबाजियां दिखाएंगे तो अद्भुत नजारा देखने को मिलेगा. वायुसेना के लड़ाकू विमानों के उतरने तथा उड़ान भरने के लिए लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे पर उन्नाव के बांगरमऊ के पास 3 किलोमीटर हवाई पट्टी तैयार की गई है. लड़ाकू विमान एक्सप्रैस-वे की एयर स्ट्रिप पर लैंडिंग एवं टेक ऑफ कर वायुसेना की ताकत का एहसास कराएंगे. मालवाहन विमान हरक्यूलिस सी-130 और गरुड़ कमांडो फोर्स के जवान भी पट्टी पर उतरेंगे.

वैसे, पिछले साल भी वायुसेना के आठ लड़ाकू विमानों ने इसी जगह एक्सप्रेस-वे पर और 2015 में मथुरा के पास यमुना एक्सप्रैस-वे पर भी वायुसेना के लड़ाकू विमान मिराज 2000 ने टच डाउन किया था. वैसे जिस जगह पर भी वायुसेना के लड़ाकू विमान को टच डाउन कराया गया था वह एक तरह से आम सड़क के साथ रनवे भी है. उसे खासतौर पर रनवे की तरह बनाया गया है कि वह लड़ाकू विमान का दबाव झेल सके. इसके पीछे सोच है कि आपात हालात में जब रनवे विमान के लिए उपलब्ध नहीं हो तो फिर लड़ाकू विमानों को ऐसी जगहों पर उतारा जा सकता है.

देश में ऐसा प्रयोग पहली बार 2015 में किया गया था, जब वायुसेना के मिराज लड़ाकू विमान ने किसी राजमार्ग पर टच डाउन किया था. दूसरी बार ऐसा प्रयोग पिछले साल लखनऊ के पास इसी जगह पर किया गया था, जो पूरी तरह से सफल रहा था.

जंग के दौरान अगर आपका एयरबेस बरबाद हो जाता है तो ऐसे राजमार्ग का बखूबी इस्तेमाल किया जा सकता है. दुनिया के चुनिंदा देशों में ऐसे हाइवे और एक्सप्रैस-वे बने हैं जहां पर इमरजेंसी के दौरान विमान को उतारा जा सकता है. इन देशों में पड़ोसी देश पाकिस्तान, जर्मनी, स्वीडन, दक्षिण कोरिया, सिंगापुर और ताइवान जैसे कई देश शामिल हैं.

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे से मंगलवार को एयरफोर्स के फाइटर प्लेन लैंडिंग और टेक ऑफ करेंगे. इसमें जगुआर, सुखोई और मिराज कैटेगरी के फाइटर प्लेन शामिल हैं. इनके अलावा एमआई-17 हेलिकॉप्टर, कैरियर एयरक्राफ्ट हरक्यूलिस-सी 17 भी उड़ान भरेंगे. दिन भर में 100 टैंकर पानी से आगरा एक्सप्रैस-वे की धुलाई की गई है.

छोटे-छोटे सुराख तक को सीमेंट के घोल से भर दिया गया है. रन-वे के दोनों तरफ 100 फुट की सफेद फेसिंग लगाई गई है. बैठने के लिए सोफे, कुर्सियां डाली जा रही है. यह एक्सरसाइज सुबह 10 बजे से दोपहर 2 बजे तक चलेगी.