पिथौरागढ़ : राज्यसभा सांसद ने केंद्र और प्रदेश सरकार पर किया तीखा प्रहार

पिथौरागढ़, राज्यसभा सांसद प्रदीप टम्टा ने केंद्र और प्रदेश सरकार पर तीखे प्रहार किए. कहा कि केंद्र सरकार विकास को लेकर प्रदेश के साथ सौतेला व्यवहार कर रही है. उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी के केदारनाथ भ्रमण को फ्लाप बताया.

सोमवार को जिला पंचायत सभागार में हुई पत्रकार वार्ता में टम्टा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दो दिन पूर्व केदारनाथ भ्रमण में जिन कार्यों का शिलान्यास किया. उसमें अधिकतर प्रदेश के एक सिंचाई मंत्री स्तर की योजनाएं हैं. कहा कि उत्तराखंड के विकास को लेकर केंद्र सरकार के पास कई मामले लंबित हैं, जिनके लिए केंद्र सरकार धन नहीं दे रही है. उन्होंने केंद्र पर उत्तराखंड से विशेष राज्य का दर्जा छीनने का आरोप भी लगाया.

टम्टा ने कहा कि केंद्र सरकार से आपदा की दृष्टि से प्रदेश के 350 से अधिक अतिसंवेदनशील गांवों के पुनर्वास के लिए धन की मांग लंबे समय से की जा रही है. इसे केंद्र सरकार लगातार अनदेखा कर रही है. टम्टा ने प्रदेश में भाजपा की सरकार आते ही उत्तराखंड केंद्र की आंखों से ओझल हो गया है.

प्रदीप टम्टा ने प्रदेश सरकार पर लोकतंत्र का गला घोटने का आरोप लगाया. कहा कि डबल इंजन की सरकार का जनता को लाभ नहीं मिला लेकिन सत्ता की ताकत से लोकतांत्रिक संस्थाओं पर चोट की जा रही है. उन्होंने कहा धारचूला ब्लाक प्रमुख के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाना और रांथी के जिला पंचायत सदस्य मान सिंह की सदस्यता समाप्त करना इसका उदाहरण है.