डेरे में रानी की तरह जीने वाली हनीप्रीत, पहली बार जेल में मनाएगी काली दिवाली

रेप मामले में 20 साल की सजा काट रहे डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम की मुंहबोली बेटी हनीप्रीत इस बार अपनी पहली काली दीवाली जेल की सलाखों के पीछे मनाएगी.डेरे में एक महारानी की तरह जिंदगी जीने वाली अंबाला सैंट्रल जेल में कैद हनीप्रीत पिछले कई दिनों से रामरहीम की याद में चैन से सो नहीं पा रही है. पूरी रात वह डेरामुखी को याद कर करवटें बदल रही हैं

यही कारण है कि हनीप्रीत के सिर में लगातार दर्द उठ रहा है. बार-बार बीती दीवाली व अपनी ऐशो-आराम की जिंदगी राम रहीम के साथ बिताए पलों के बारे में याद कर हनीप्रीत के माथे पर परेशानी की झुर्रियां दिखाई देती हैं जिसके कारण उसकी रातों की नींद तक उड़ गई है. बहरहाल डाक्टरों ने हनीप्रीत को अन्य दवाइयों के साथ-साथ तनावमुक्त रहने के लिए कुछ जरूरी दवाई भी उपलब्ध करवाई हैं.

यह पहला मौका है जब हनीप्रीत सैंट्रल जेल की काल कोठरी में काली दीवाली मनाएगी. इससे पहले हनीप्रीत ने रानी की तरह हर दीवाली मनाई और हमेशा उजाले और खुशियों से भरपूर जिंदगी का आनंद उठाया.

सी.एम.ओ.डा. विनोद गुप्ता का कहना है कि एक महिला डॉक्टर और फिजीशियन की टीम ने सैंट्रल जेल में ही हनीप्रीत की जांच की जहां हनीप्रीत ने उनसे अपने सिर में हो रहे दर्द के अलावा बदन दर्द की शिकायत की. हनीप्रीत की शिकायत के बाद डॉक्टरों ने उसकी जांच की और उसे दवाई दी.