पहली बार डेरा सच्चा सौदा प्रमुख से मिलने जेल पहुंची पत्नी हरजीत कौर

सोमवार को दो साध्वियों से रेप मामले में जेल में बंद डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम की पत्नी पहली बार उससे मिलने सुनारिया जेल पहुंची. हरजीत कौर के साथ बेटा जसमीत, बेटी चरणप्रीत, बहू उसन मीन और दामाद रूहमीत भी शामिल थे. जेल सूत्रों की मानें तो राम रहीम का परिवार उसे दिवाली की मिठाई और कुछ कपड़े देने के लिए जेल आए थे.

राम रहीम और उनके परिवार के बीच क्या बात हुई ये तो साफ नहीं हो पाया लेकिन जेल में मिलने के बाद बाहर लौटे परिवार का चेहरा उतरा हुआ साफ देखा जा सकता था. आपको बता दें कि इससे पहले राम रहीम की मां नसीब कौर भी मिलने पहुंची थी. डेरा प्रमुख से मुलाकात के लिए जेल में सोमवार और गुरुवार का दिन निर्धारित है. इससे पहले 9 अक्टूबर को राम रहीम से मां नसीब कौर, बेटा जसमीत, बेटी अमरप्रीत और दामाद सनमीत ने मुलाकात की थी.

सोमवार को राम रहीम से मुलाकात के लिए परिवार करीब सवा 3 बजे जेल परिसर पहुंचा. जेल की ओर से जाने वाले रास्ते पर लगे नाके पर उनकी कार रुकवाई गई. फिर गाड़ी की तलाशी लेने और पहचान पत्र चेक करने के बाद उन्हें जेल में डेरा प्रमुख से मुलाकात के लिए भेजा गया.

राम रहीम के परिजनों ने जेल में मुलाकात के दौरान उन्हें दीपावली की बधाई दी और मिठाई का डिब्बा भी दिया. शाम 4 बजकर 35 मिनट पर परिजन रवाना हो गए. राम रहीम के वकील ने मुलाकात के लिए पहले ही अनुमति ले ली थी. जेल प्रशासन ने जेल के हालात को देखते हुए दोपहर बाद का समय निर्धारित किया. दरअसल दोपहर के समय सभी तरह के कैदी बैरक में होते हैं. इसलिए प्रशासन ने यही समय उचित माना.