आरुषि हत्याकांड: आज रिहा हो जाएंगे राजेश और नूपुर तलवार

पिछले चार सालों से डासना जेल में आरुषि-हेमराज हत्याकांड में बंद राजेश और नूपुर तलवार को सोमवार को रिहाई मिल सकती है. दोनों पिछले चार सालों से डासना जेल में बंद हैं. इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 9 साल पुराने आरुषि मर्डर केस में आरोपी तलवार दंपत्ति को गुरुवार को बरी कर दिया था.

तलवार दंपत्ति को शुक्रवार को ही रिहाई मिल जाती. लेकिन जेल प्रशासन तक कोर्ट के आदेश की कॉपी नहीं पहुंच सकी थी. जिस कारण राजेश और नूपुर तलवार को दो दिन का और इंतजार करना पड़ा. राजेश और नूपुर तलवार के वकील ने बताया कि आदेश की प्रति गाजियाबाद में विशेष सीबीआई अदालत को सोमवार को उपलब्ध कराई जाएगी. इसके बाद डासना जेल के अधिकारियों को दंपती को बरी करने के लिए यह प्रति मुहैया कराई जाएगी.गाजियाबाद की अदालतों में दूसरे शनिवार को छुट्टी रहती है. आदेश की प्रति शुक्रवार की शाम को हासिल हुई है. आरुषि और हेमराज की हत्या के मामले में दोनों आरोपी हैं. आरुषि की रिश्तेदार वंदना तलवार ने बताया, ‘हमें इलाहाबाद उच्च न्यायालय के आदेश की एक प्रमाणित प्रति मिली है.

राजेश और नूपुर तलवार आरूषि और हेमराज की हत्या के मामले में दोषी ठहराए जाने तथा उम्र कैद की सजा मिलने के बाद गाजियाबाद की डासना जेल में नवंबर 2013 से बंद हैं. राजेश और नूपुर दोनों ही दंत चिकित्सक हैं. दोनों ने उम्रकैद के फैसले को इलाहाबाद उच्च न्यायालय में चुनौती दी थी. एक सप्ताह पहले उच्च न्यायालय ने इस दंपत्ति को इस दोहरे हत्याकांड मामले में बरी कर दिया.