तेजस एक्सप्रेस में नाश्ता करने के बाद बिगड़ी 24 यात्रियों की तबीयत

रविवार को गोवा से मुंबई के बीच चलने वाली टेक्नोलॉजी से लैस तेजस एक्सप्रेस में ब्रेकफास्ट के बाद यात्रियों की तबीयत बिगड़ गई. कोंकण रेलवे सीएमडी ने बताया कि सुबह का नाश्ता करने के बाद 24 यात्रियों की सेहत खराब हो गई. सभी बीमार यात्रियों को पास के ही सरकारी और निजी अस्पतालों में भर्ती कराया गया है.

आइआरसीटीसी के मुताबिक, गोवा से मुंबई आ रही ट्रेन में सफर के दौरान कुल 290 यात्रियों को नाश्ता दिया गया था. दोपहर 12 बजे तीन यात्रियों ने शिकायत करते हुए कहा कि उनकी तबीयत बिगड़ रही है. बाद में कई और यात्रियों ने भी ऐसी ही शिकायत की. माना जा रहा है कि फूड पॉइजनिंग की वजह से ही यात्रियों की तबीयत बिगड़ी है.

आईआरसीटीसी प्रवक्ता पिनाकिन मोरावाला ने बताया, ‘हमारा गोवा में कोई बेस किचन नहीं है. इसलिए इस ट्रेन की केटरिंग सेवा आउटसोर्स की गई है. मुसाफिरों को सुबह नाश्ते में उपमा, ऑमलेट, सैंडविच और जूस दिया गया था.’ इस नाश्ते को खाने के बाद ही मुसाफिरों की तबीयत बिगड़ गई. 992 यात्री क्षमता वाली इस ट्रेन में 292 यात्री सफर कर रहे थे. इनमें से 220 को सुबह नाश्ता परोसा गया था.

IRCTC ने बयान जारी कर कहा है कि ट्रेन नंबर 22120 तेजस एक्सप्रेस में फूड पॉइजनिंग की खबर मिलते ही ट्रेन को चिपलून पर रोका गया. इसके बाद 9 यात्रियों का पहले रेलवे डॉक्टरों ने उपचार किया. फिर 24 यात्रियों को मेडिकल सहायता के लिए लाइफ केयर हॉस्पिटल ले जाया गया. बयान में कहा गया है कि नाश्ते का सैंपल जांच के लिए लिया गया है.