देश में गोला-बारूद की कमी नहीं: सुभाष भामरे

जबलपुर, रविवार को केन्द्रीय रक्षा राज्य मंत्री सुभाष भामरे ने कहा कि देश के आयुधागार में गोला बारूद और युद्ध उपकरण की कोई कमी नहीं है. देश में गोला बारूद और हथियारों की कमी के सवाल पर भामरे ने कहा, ‘‘स्थिति वर्ष 2013 के जैसी नहीं है.’’

उन्होंने कहा कि हमारे देश की गिनती ऐसे देशों में होती थी जो दूसरे देशों से रक्षा उपकरण और आयुध का बड़ी मात्रा में आयात करता था. लेकिन अब रक्षा उपकरण उत्पादन के मामले में ‘मेक इन इंडिया’ के तहत आत्मनिर्भरता हासिल करने के प्रयास शुरू कर दिए गए हैं. भामरे ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी चाहते हैं कि ‘मेन इन इंडिया’ कार्यक्रम के तहत भारत रक्षा उत्पादन मामले में आत्मनिर्भर बने.’’

 

उन्होंने कहा कि रक्षा उत्पादन में देश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए अन्य देशों और कंपनियों के साथ ट्रांसफर आफ टेक्नालॉजी (टीओटी) योजना के साथ करार किए गए हैं ताकि भविष्य में रक्षा उत्पादन के क्षेत्र में देश आत्मनिर्भरता हासिल कर सके. टीओटी के तहत विदेशी आपूर्तिकर्ता कंपनी द्वारा हमारे लोगों को तकनीकी ज्ञान भी दिया जाएगा. इस प्रकार भविष्य में हमारे कर्मचारी उन्हें बनाने में आत्मनिर्भर होगें.