‘अगर बाबा राम रहीम बरी होते तो सत्संग करते और दोषी होते तो दंगा….और वही किया’ : हनीप्रीत

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम की मुंहबोली बेटी और पंचकूला हिंसा की आरोपी हनीप्रीत ने पुलिस गिरफ्त में कई राज उगले हैं। उन खुलासों में से एक पंचकुला हिंसा में हनीप्रीत के शामिल होने की बात कबूलना भी शामिल है.सुत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बीते 25 अगस्त को जब राम रहीम की सीबीआई कोर्ट में पेशी होनी थी, उससे पहले हनीप्रीत ने डेरा के आला लोगों के साथ एक मीटिंग कर 25 अगस्त की रणनीति तैयार की थी.

सुत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, हनीप्रीत ने इस मीटिंग में मौजूद सभी लोगों को एक पीपीटी के जरिए पूरा प्लान समझाया था. हनीप्रीत ने कहा था कि अगर पापा बरी होते हैं तो डेरा में एक भव्य सत्संग करेंगे और अगर फैसला उनके खिलाफ आता है तो हिंसा कर सरकार को उन्हें छोड़ने पर मजबूर कर देंगे.

बाबा को दोषी करार दिए जाने से पहले ही समर्थक पंचकूला पहुंचने लगे थे. यहां से वीडियो बनाकर हनीप्रीत को भेजी जाती थी. हनीप्रीत चेक करती थी कि कहां समर्थक ज्यादा दिख रहे हैं और लोगों को कहां फिट करना है. इसके बाद दोबारा वीडियो बनवाकर उसे वायरल करती थी. दिन में 10-12 वीडियो बनवाए जाते थे