शातिर ठग ने इस तरह अमेजॉन को लगाया लाखों का चूना

21 साल के एक युवक ने अपने शातिर दिमाग की बदौलत ऑनलाइन शॉपिंग कंपनी अमेजॉन को ऐसा चूना लगाया कि कंपनी को लाखों रूपये का नुकसान उठाना पड़ा. 21 वर्षीय शिवम चोपड़ा ने अमेजॉन से 166 से ज्यादा मंहगे मोबाइल फोन खरीदे और फिर कंपनी से यह कहते हुए रिफंड भी ले लिया कि उसे फोन के डिब्बे खाली मिले.

पुलिस का कहना है कि शिवम ने इस साल अप्रैल से मई माह के दौरान इस तरह से कुल 50 लाख रुपये कमाए.जब अमेजॉन को ठगी का अहसास हुआ तो कंपनी ने इसकी पुलिस में शिकायत दर्ज कराई.शिवम ने रोहिणी से होटल मैनेजमेंट का कोर्स किया तथा कई जगह नौकरी भी की. शिवम नौकरी से कभी संतुष्ट नहीं रहा और उसने नौकरी भी छोड़ दी. इसी साल मार्च में उसके दिमाग में एक आइडिया आया और उसने केवल टेस्ट के लिए दो फोन ऑर्डर किए फिर रिफंड भी ले लिया. अगले दो महीने में उसने एप्पल, सैमसंग और वन प्लस जैसे कई फोन ऑर्डर किए और रिफंड भी लिया.फोन मिलने के बाद शिवम उन मोबाइल फोन को ओएलएक्स साइट या गफ्फार मार्केट में जाकर बेच देता था.पुलिस के मुताबिक शिवम ने कुल आर्डर 60 लाख से ज्यादा के किये थे. पुलिस पूछताछ में इस बात का खुलासा भी हुआ है कि ठगी करने के लिए उसने त्रिनगर निवासी सचिन जैन से फर्जी सिम खरीदी थी.

सचिन ने शिवम को लगभग 141 प्री एक्टिवेट सिम मुहैया कराई और उसने अलग- अलग पते पर फोन मंगवाए.सचिन प्रत्येक सिम के 150 रुपये वसूलता था.शिवम इन नंबरों का प्रयोग ऑर्डर देने के लिए करता था.आरोपी फर्जी सिम से गिफ्ट कार्ड के जरिए कीमती फोन बुक करता था और कंपनी से सामान आने पर उसमें सामान नहीं होने की बात कहकर कंपनी से रिफंड ले लेता था.वरिष्ठ पुलिस अधिकारी मिलिंद डूंबरे ने बताया कि पकड़े गए आरोपियों की पहचान शिवम चोपड़ा और सचिन जैन के रूप में हुई है. गत 17 अगस्त को अमेजॉन शॉपिंग कंपनी के एक अधिकारी ने केशवपुरम थाने में फर्जीवाड़े की शिकायत की थी. पुलिस ने आरोपी शिवम चोपड़ा के घर से 19 मोबाइल फोन, 12 लाख रुपये कैश और 40 बैंक पासबुक तथा चैकबुक जब्त किए हैं.