संयुक्त राष्‍ट्र राम रहीम और हनीप्रीत से लगा रहा ये कैसी उम्मीद

ऐसा लगता है कि गुरमीत राम रहीम और हनीप्रीत के जेल में होने की खबर संयुक्‍त राष्‍ट्र (यूएन) तक नहीं पहुंची है. अगर ऐसा होता, तो यूएन से राम रहीम और हनीप्रीत को शौचालय दिवस का समर्थन करने की अपील नहीं करता.

राम रहीम साध्वियों से दुष्‍कर्म के मामले में 20 साल जेल की सजा काट रहे हैं. वहीं 38 दिन बाद फरार हनीप्रीत भी आखिरकार पुलिस की गिरफ्त में आ गई. लेकिन यूएन को शायद इसकी जानकारी नहीं है. इसलिए यूएन की ओर से राम रहीम और हनीप्रीत से अपील की गई है.

यूएन की ओर से 19 नवंबर को ‘विश्व शौचालय दिवस’ मनाया जा रहा है. यूएन के ट्विटर हैंडल से एक ट्वीट कर राम रहीम और हनीप्रीत को भी इससे जुड़ने की अपील की गई है. ट्वीट में राम रहीम और हनीप्रीत को टैग करते हुए लिखा गया है, ‘डियर हनीप्रीत इंसां और राम रहीम हमें उम्मीद है कि आप विश्व शौचालय दिवस का बढ़-चढ़कर समर्थन करेंगे.’

संयुक्‍त राष्‍ट्र के इस ट्वीट को पढ़कर बेहद हैरानी होती है. राम रहीम को सजा सुनाए जाने के बाद पंचकुला में काफी बवाल हुआ था, ये खबर अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर पर कवर की गई थी. ऐसे में ये कैसे हो सकता है कि यूएन के अधिकारियों को राम रहीम के जेल में होने की खबर ना हो.