5 घंटे की पूछताछ के दौरान दर्जनों सवालों के जवाब में हनीप्रीत ने साधी चुप्पी

5 घंटे लगातार पूछताछ, 5 दर्जन सवाल मगर जवाब में कुछ खास नहीं मिला. हनीप्रीत 7 बार पापा का नाम लेकर भावुक हुई. वह फूट-फूट कर रोई. पंचकूला के सैक्टर-23 के थाने में क्राइम अगेंस्ट वुमैन की आई.जी. ममता सिंह ने जहां प्रश्न पूछे, वहीं ए.सी.पी. व एस.आई.टी. प्रमुख मुकेश मल्होत्रा ने पूरा प्रश्नों का पिटारा पहले दौर में ही खोल दिया. मगर हनीप्रीत अधिकतर सवालों पर चुप रही. वह पापा के नाम का राग अलापती रही.

उसने दंगों के लिए दोषी होने के आरोपों का खंडन किया. हनीप्रीत ने कहा कि शरारती तत्वों को पुलिस ने जांच कर भेजा था.हनीप्रीत को पंचकूला पुलिस ने महिला लॉकअप में रखा है. सूत्रों के अनुसार आला अधिकारियों के आदेश पर हनीप्रीत से सामान्य आरोपी की तरह के मापदंड अपनाए गए.

38 दिन में फरारी के दौरान हनीप्रीत ने पंजाब के भटिंडा में काफी समय बिताया. यह खुलासा पंचकूला पुलिस की हाईलैवल जांच कमेटी के समक्ष हनीप्रीत ने किया है. साथ में गिरफ्तार महिला का नाम सुखप्रीत है. सुखप्रीत भी डेरा प्रेमी है. पंचकूला पुलिस कमिश्नर ए.एस. चावला ने बताया कि हनीप्रीत पूछताछ में सहयोग नहीं कर रही है. बुधवार को दोनों को दोपहर 2 बजे कोर्ट में पेश किया जाएगा.

हनीप्रीत से पूछे गए ये सवाल

  •  पिछले 38 दिन से वो कहां छिपी थी?
  • 25 अगस्त को रोहतक की सुनारिया जेल से लौटने के बाद कहां गई?
  • क्या राम रहीम को जेल पहुंचने से पहले ही भगाने की योजना थी?
  • डेरा समर्थकों को किसने और किसलिए बुलाया था?
  • फरार चल रहे आदित्य इंसां और पवन इंसा के बारे में कोई जानकारी?
  • तुम्हारे पास इंटरनेशनल नंबर था, किससे बात होती थी?
  • तुम आदित्य, पवन, रोहताश से व्हाट्सऐप के जरिए संपर्क में थी?

सरैंडर या गिरफ्तारी सवालों के घेरे में पुलिस
हनीप्रीत ने आत्मसमर्पण किया या फिर गिरफ्तार हुई. यह सवाल उठने शुरू हो गए हैं. एक तरफ जहां पुलिस गिरफ्तारी पर अपनी पीठ थपथपा रही है तो वहीं दूसरी ओर हनीप्रीत ने जिस तरह 2 अक्तूबर की रात को 2 मीडिया वालों को रात 2 से 4 बजे तक इनोवा में इंटरव्यू देकर स्पष्ट कहा कि वह आज आत्मसमर्पण करेगी. यह बयान पुलिस की थ्यूरी पर प्रश्न उठा रहे हैं. दोपहर 1 बजे के आसपास पुलिस कमिश्नर ए.एस. चावला बयान देते हैं कि हनीप्रीत चंडीगढ़-पंचकूला के आसपास है. पुलिस हनीप्रीत की मदद नहीं कर रही. साढ़े 3 बजे कहते हैं कि हनीप्रीत को 3 बजे पटियाला रोड, जीरकपुर पर एस.आई.टी. ने ए.सी.पी. के नेतृत्व में पकड़ लिया है.