गौरी लंकेश हत्याकांड : एसआईटी के हाथ लगे अहम सुराग

कर्नाटक सरकार का कहना है कि वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश के हत्यारों की पहचान कर ली गई है और एसआईटी इस मामले में कुछ और सबूत एकत्र कर रही है. पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज से हमलावर की तस्वीर निकाल ली जिसमें उसका चेहरा साफ दिख रहा है.

इस पूरे मामले में कर्नाटक के गृह मंत्री रामलिंगा रेड्डी ने कहा कि सरकार को हत्यारों के बारे में पुख्ता सुराग मिल गए हैं और हम जानते हैं कि इस हत्या के पीछे कौन है लेकिन अभी और ठोस सबूत इकट्ठे किए जा रहे हैं. सीसीटीवी फुटेज में जो हत्यारा नजर आ रहा है, उसने पूरी बाजू की शर्ट पहनी हुई है. गले में किसी कंपनी का आईकार्ड और दाहिने हाथ में बैंड है.

पुलिस कई प्रत्यक्षदर्शियों से पूछताछ भी कर चुकी है और हर पहलू पर जांच कर रही है. पुलिस जांच में यह बात पहले ही सामने आ चुकी है कि वारदात को अंजाम देने से पहले हमलावरों ने गौरी के घर की रेकी थी.

हत्यारे ने बाइक से घर के तीन चक्कर लगाए थे. उसने 7.65MM पिस्टल से इस वारदात को अंजाम दिया है. रिपोर्ट के मुताबिक डॉक्टर एमएम कलबुर्गी और गौरी लंकेश की हत्या में बहुत समानता पाई गई है. दोनों को एक ही तरह से मारा गया है.