कानपुर: ताजिया जुलूस को लेकर बवाल, SP समेत दर्जनों घायल

दशहरा के दिन रावतपुर गांव में हुए साम्प्रदायिक बवाल के बाद अब महानगर का जूही थानाक्षेत्र के परामपुरवा का इलाके जल उठा है. ताजिए के जुलूस के रास्ते को लेकर दो पक्षों के टकराव के बाद जमकर आगजनी और पत्थरबाजी हुई.

परमपुरवा इलाके में दोनों पक्ष के दंगाईयों ने जमकर बवाल किया.  दोनों पक्षों के बीच जमकर पत्थरबाजी हुई. इस दौरान सड़कों पर खड़ी गाड़ियां जला दी गई. तनाव बढ़ता देख मौके पर पहुंची पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा. इस घटना में एसपी साउथ अशोक वर्मा और एक दारोगा सहित करीब आधा दर्जन पुलिसकर्मी घायल हुए हैं. पुलिस की कई गाड़ियों के शीशे तोड़े गए हैं. फिलहाल तनाव की स्थिति को देखते हुए मौके पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है.

गौरतलब है कि इस बार दशहरे के साथ ही मुस्लिमों का मोहर्रम का त्योहार भी है. जिसके बाद से पूरे शहर में भारी सुरक्षा इंतजाम किए गए थे. लेकिन मोहर्रम में निकलने वाले ताजिए के जुलूस को लेकर विवाद हुआ तो बढ़ता गया. दोनों पक्ष के लोग आमने-सामने आ गए.

माना जा रहा है कि बिना रूट के निकल रही ताजिया को लेकर दूसरे समुदाय के लोगों ने विरोध कर दिया. देखते ही देखते विरोध बवाल का रूप धारण कर लिया और दोनों पक्षों की ओर से जमकर पत्थर चलें. बवाल में दर्जनों पुलिस कर्मी घायल हो गये और आगजनी से कई गाड़ियां व दुकानें खाक हो गई. मौके पर आलाधिकारी बवाल को शांत कराने में जुटे हुए हैं.