भारत-नेपाल सीमा पर मिला तलवारों का जखीरा, बड़ी साजिश का अंदेशा

भारत-नेपाल सीमा पर अजमेर से नेपाल जा रही बसों की तलाशी के दौरान तलवारों का बड़ा जखीरा बरामद होने से सनसनी फैल गई है. अभी तक यह पता नहीं चल सका कि तलवारें किस मकसद से नेपाल ले जायी जा रही थीं.

दरअसल मंगलवार को अजमेर से नेपाल जा रही बस से बहराइच में रूपईडीहा बॉर्डर पर 81 तलवारें मिली थीं. बुधवार को भी अजमेर से नेपाल जा रही बसों की तलाशी हुई तो 152 तलवारें मिलीं. पुलिस ने एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है. चेकिंग व पूछताछ जारी है. मंगलवार को बरामदगी के बाद पांच घंटे तक ड्राइवर व कंडक्टर से पूछताछ हुई लेकिन, यह नहीं पता चल सका कि तलवारें कहां और कौन ले जा रहा था.

रूपईडीहा सीमा स्थित चेक पोस्ट पर तैनात एसएसबी 42वीं बटालियन के जवानों ने अजमेर से नेपाल जा रही टूरिस्ट बसों की तलाशी लेने के दौरान एक बस से 40 तलवारें, दूसरी बस से 34 व तीसरे बस से सात तलवारें मिलीं. पूछताछ के बाद ड्राइवरों व कंडक्टरों को छोड़ दिया गया. बुधवार को तलवारों का जखीरा बहराइच-लखनऊ हाईवे पर स्थित घाघराघाट पुल के पास वाहन चेकिंग में मिला.

एसपी जुगुल किशोर ने बताया कि त्योहारों के मद्देनजर पुलिस टीम घाघरा घाट पुल पर चेकिंग कर रही थी. पकड़ा गया आरोपी सैय्यद अली पुत्र इमामुद्दीन कोतवाली देहातके कुरवारी का रहने वाला है. पूछताछ के दौरान युवक ने तलवार राजस्थान से लाए जाने की बात स्वीकार की है. तीन और लोगों को हिरासत में लेकर पुलिस पूछताछ कर रही है.