केजरीवाल ने दिल्ली मेट्रो के इस फैसले को बताया जनविरोधी

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मेट्रो के किराए में प्रस्तावित वृद्धि को ‘‘जन विरोधी’’ बताया और परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत को एक सप्ताह के भीतर इसे लागू होने से रोकने के निर्देश दिए. अक्तूबर से मेट्रो के किराए में भारी वृद्धि होनी तय मानी जा रही है. इस साल मेट्रो के किराए में दूसरी बार वृद्धि की जा रही है.

 

इससे पहले मई में किराया बढ़ाया गया था. अगले महीने से किराये में अधिकतम 10 रुपये की वृद्धि हो जाएगी. केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा, ‘‘मेट्रो के किराए में वृद्धि जन विरोधी है. परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत को एक सप्ताह के भीतर मेट्रो के किराये में वृद्धि को रोकने का हल खोजने के निर्देश दिए गए हैं.’’

 

सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि मुख्यमंत्री दिल्ली मेट्रो रेल कोरपोरेशन (डीएमआरसी) के किराया बढ़ाने के कदम से खुश नहीं हैं. अधिकारी ने कहा, ‘‘परिवहन मंत्री जरुरत पड़नेपर इस मुद्दे पर डीएमआरसी प्रमुख मंगू सिंह को भी समन भेज सकते हैं. सरकार मेट्रो का किराया बढऩे से रोकने की कोशिश करेगी.’’

 

डीएमआरसी ने मई में चौथी किराया निर्धारण समिति की सिफारिशों के अनुसार किराए में बढ़ोत्तरी के पहले चरण की घोषणा की थी. दूसरा चरण अक्तूबर से लागू होगा.