स्‍कूली लड़कियों को सेक्‍स स्‍लेव बनाता है तानाशाह किम जोंग

सोल|….. नॉर्थ कोरियन तानाशाह किम जोन्ग उन का प्लेजर स्क्वॉयड फिर चर्चा में है. नॉर्थ कोरियन डिफेक्टर ने खुलासा किया है कि किम जोन्ग ने कई सारे हरम बना रखे हैं, जिसके लिए स्कूल से लड़कियां उठाई जाती हैं. उसने अपनी टीनेज क्लासमेट्स को हरम के लिए उठाते भी देखा है. बता दें ये प्लेजर स्क्वॉयड तानाशाह किम जोन्ग इल के हरम जैसा था, जहां लड़कियां तानाशाह और उनके अफसरों को एंटरटेन करने के लिए रहती थी.

 

26 साल की ही योन लिम ने खुलासा किया है कि तानाशाह ने लड़कियों को सेक्स स्लेव बना रखा है और ये अंडरग्राउंड बंकरों में चल रहे हैं, जिन्हें ट्रेस करना मुमकिन नहीं है. महिला के मुताबिक, ‘स्कूल में पढ़ रही लड़कियों में से सबसे खूबसूरत को घसीटकर किम के पास ले जाया जाता है और उसे यह भी सिखाया जाता है कि किम को कैसे ‘खुश’ रखना है. अगर लड़की से कोई भी गलती हुई तो वह दिन इस दुनिया में उसका आखिरी दिन होता है.’

 

26 वर्षीय योन लिम ने बताया कि उसे बचपन से सिखाया गया था कि किम जोंग के किसी भी फैसले पर सवाल नहीं करना है. लिम कहा कि 11 म्यूजिशंस की एक साथ हत्या को देखकर इतना डर गई थी कि साल 2015 में वह अपने भाई और मां के साथ दक्षिण कोरिया भाग आई.

 

लिम ने बताया कि इन म्यूजिशंस की हत्या को देखने के लिए 10 हजार लोगों को इक्ट्ठा किया गया था. म्यूजिशंस पर पोर्न मूवी बनाने का आरोप लगा था. लिम ने बताया कि म्यूजिशंस को बाहर लाया गया, उनके मुंह बंद कर दिए ताकि वे शोर न मचा सके. उन म्यूजिशंस को कोड़े मारते हुए ऐंटी-एयरक्राफ्ट गन्स (विमानों पर हमला करने वाली बंदूकें) के पास ले जाया गया. उस सभी दिन 10000 लोगों को आदेश दिया गया था कि उन्हें यह हत्या देखनी है. महिला का कहना है कि वे उन पीड़ितों से 200 मीटर की दूरी पर खड़ी थी.

 

महिला ने बताया, ‘कुछ देर बाद आवाज आई बंदूके चली. बंदूक चलने के बाद म्यूजिशंस अचानक गायब हो गए. उनका शरीर जलकर टुकड़ों में बंट चुका था, वे पूरी तरह खत्म हो चुके थे, हर तरफ सिर्फ खून और शरीर के चिथड़े उड़ते दिख रहे थे. इसके बाद सेना के टैंक आए और उन चिथड़ों को कुचलते हुए आगे चले गए.’ लिम ने बताया कि उसकी क्लास की सबसे सुंदर लड़की को चुना जाता था और उसे किम की सैक्स स्लैव बनने को कहा जाता था, ऐसी लड़कियों को घसीटकर ऐसे स्थान पर ले जाया जाता था, जहां इनका कोई पता ना चल सके. ये लड़कियां बेहद ही दर्दनाक स्थिति में रहती थी. यदि कोई लड़की प्रेगनेंट हो जाए तो भी गायब कर दिया जाता था.

 

ये लड़कियों 25 साल की उम्र तक किम जोंग की गुलाम बनकर रहती हैं. किम को खुश करने के लिए उसके ऐशगाह में दो हजार लड़कियों को बंधक बनाकर रखा जाता है. ये लड़कियां लंबी, खूबसूरत और सुरीली आवाज वाली होती हैं. उन्हें 15 साल तक यहां रखा जाता है. इन्हें छह महीने की यौन गुलामी का प्रशिक्षण भी दिया जाता है.