क्या भारत के इस शहर में छुपी है हनीप्रीत?

पटना, बलात्कारी बाबा राम-रहीम की गोद ली बेटी हनीप्रीत इंसा की तलाश बिहार में भी हो रही है. हनीप्रीत की तलाश में बिहार पुलिस ने पड़ोसी देश नेपाल से लगे बिहार के सभी सात सीमावर्ती जिलों को अलर्ट कर दिया है. इन सातों सीमावर्ती जिलों में हनीप्रीत के पोस्टर लगाए जा रहे हैं. इन जिलों के एसपी को हनीप्रीत की तलाश में विशेष अभियान चलाने का निर्देश जारी किया गया है.

बिहार के अपर पुलिस महानिदेशक (मुख्यालय) संजीव कुमार सिंघल ने बताया कि हरियाणा पुलिस ने हनीप्रीत को लेकर बिहार पुलिस से संपर्क साधा है. हनीप्रीत के बिहार के रास्ते नेपाल भागने की आशंका जताई गई है. हरियाणा पुलिस की इस सूचना के बाद बिहार के उन सभी सात जिलों को अलर्ट कर दिया गया है जो नेपाल की अंतरराष्ट्रीय सीमा से लगे हैं.

हनीप्रीत के बिहार में अंडरग्राउंड होने की आशंका से पुलिस को इन्‍कार नहीं है. इसे देखते हुए नेपाल सीमावर्ती जिलों में वाहनों की सघन तलाशी शुरू कर दी गई है. साथ ही हनीप्रीत की तस्वीरों वाले पोस्टर भी इन जिलों के सभी चौक-चौराहों पर लगाए जा रहे हैं. साथ ही इन जिलों के प्रमुख होटलों में पुलिस की टीम घूम-घूमकर हनीप्रीत की तस्वीर दिखाकर उसके संबंध में जानकारियां एकत्रित कर रही है. बलात्कारी बाबा की कथित बेटी के खिलाफ गृह मंत्रालय ने ‘लुक आउट’ नोटिस पहले ही जारी कर रखा है. दरअसल, विगत 25 अगस्त को गुरमीत राम-रहीम को बलात्कार के दो अलग-अलग मामलों में 20 साल की कैद की सजा मिलने के बाद उसकी गोद ली हुई कथित बेटी हनीप्रीत देश की सभी खुफिया व सुरक्षा एजेंसियों की आंखों में धूल झोंककर फरार हो गई थी. उसके विदेश भागने की भी आशंका जताई जा रही है.

हरियाणा पुलिस को अंदेशा है कि हनीप्रीत हरियाणा के सिरसा से सड़क मार्ग से उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड या बिहार के रास्ते नेपाल भाग सकती है. हरियाणा पुलिस ने बिहार पुलिस से नेपाल की पुलिस के साथ भी को-ऑर्डिनेट करके हनीप्रीत के संबंध में जानकारी जुटाने का आग्रह किया है. हरियाणा पुलिस के अनुसार सिरसा से अचानक गायब हुई हनीप्रीत के पास काफी नकदी के साथ सोने, हीरे और अन्य कीमती पत्थर व गहने होने की संभावना है.