हल्द्वानी : प्रत्याशी चयन को लेकर छात्र संगठनों में तनातनी

हल्द्वानी,  एमबीपीजी कॉलेज के छात्रसंघ चुनाव पर एबीवीपी व एनएयूआई छात्र संगठन प्रत्याशी तय करने में ही उलझकर रह गए हैं. हैरानी की बात यह है कि एबीवीपी का एक दावेदार चुनावी रण में उतरने से पहले ही फेल हो गया.

एबीवीपी के तमाम पदाधिकारियों ने अभिलाष कांडपाल को मैदान में उतारा. बड़े-बड़े होर्डिग लग गए. प्रचार शुरू हुआ, पंफलेट बांटे जाने लगे, लेकिन अभिलाष इंटीरियर एंड एक्सटीरियर डेकोरेशन डिप्लोमा पाठ्यक्रम में पास नही कर सका. इससे संगठन में खलबली मच गई है, अब इस गुट ने एमकॉम की पढ़ाई करने वाले नरेश कनवाल को मैदान में उतार दिया है. नरेश संगठन के कई पदों पर रहे है. एबीवीपी के ही एक गुट ने कुलदीप कुल्याल को चुनावी मैदान में उतारा है. संगठन किसे प्रत्याशी तय करता है, फिलहाल यह स्पष्ट नहीं हो सका है.

वही कांग्रेस समर्थित एनएसयूआइ के दो दावेदारों ने मैदान में ताल ठोंकी है. मीमांशा आर्य बेहद मजबूती से चुनावी मैदान में डटी हैं. सचिव पद के लिए तैयारी कर रहे रोहित बहुगुणा अब अध्यक्ष पद के लिए टिकट की दावेदारी में दमदारी से जुटे हैं. संगठन के वर्तमान पदाधिकारी जहां मीमांशा पर अधिक विश्वास जता रहे है, वही पूर्व पदाधिकारी व कांग्रेस के कुछ नेताओं की पंसद रोहित है. ऐसे में प्रत्याशी तय करने का मामला फंस गया है. दोनों तरफ से जबरदस्त जोर आजमाइश है. चर्चा है कि मीमांशा की डिग्री का विवाद भी सामने आ सकता है, फिलहाल प्रत्याशी को लेकर कुछ भी स्पष्ट नहीं है.