जानिए किसकी गवाही से बदल जाएगी राम रहीम की किस्मत

डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह दो साध्वियों के रेप के मामले में 20 साल की सजा काट रहे है. अब उन पर हत्या करवाने समेत कई संगीन आरोप हैं. जिसको लेकर राम रहीम के खिलाफ अलग अलग अदालतों में केस चल रहा है.

साध्वियों से रेप के मामले में सीबीआई के गवाह रहे, राम रहीम के पूर्व ड्राइवर खट्टा सिंह 2012 में अपने बयान से पलट गए थे. उस दौरान खट्टा सिंह ने दावा किया था कि सिरसा डेरे में राम रहीम के इशारे पर कई हत्याएं की गईं.

इस मामले को लेकर खट्टा सिंह ने एक बार फिर से गवाही देने का फैसला किया है. खट्टा सिंह ने अदालत में अपील कर फिर से गवाही देने की बात कही है, जिसकी सुनवाई आगामी 22 सितंबर को होनी है. 22 सितंबर को कोर्ट तय करेगा की खट्टा सिंह गवाही दे सकता है या नही.

जानिए कौन हैं खट्टा सिंह

  • खट्टा सिंह 1988 में राम रहीम के डेरा सच्चा सौदा से जुड़े.
  • खट्टा सिंह 2002 में डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख राम रहीम के ड्राइवर रहे हैं.
  • खट्टा सिंह 9 साल तक राम रहीम के ड्राइवर रहे हैं.
  • खट्टा सिंह राम रहीम के खिलाफ जितने भी केस चल रहे हैं, उनमें अहम गवाह है.
  • खट्टा सिंह ने खोले राम रहीम के राज.
  • खट्टा सिंह जब डेरा चीफ के ड्राइवर थे, उसी दौरान साध्वियों से रेप की घटना सामने आई थी.
  • खट्‌टा सिंह का दावा है कि सिरसा डेरे में राम रहीम के इशारे पर कई हत्याएं की गई.
  • खट्टा सिंह का दवा है कि राम रहीम के इशारों पर ही साध्वियों से रेप के बाद डेरे के मैनेजर रणजीत सिंह और पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की हत्या हुई.
  • खट्टा सिंह का दवा है कि गोरा सिंह नामक एक लड़के को गोली मारने के बाद उसकी लाश डेरे के अंदर ही जला दी गई थी.
  • खट्टा सिंह का दावा है कि कत्ल के बाद कई लोगों के शव डेरा परिसर में दबा दिए जाते थे तो कुछ लाशों को साथ लगती नहर में बहा दिया जाता था.