उम्मीद : अक्टूबर 2019 तक खुले में शौच से मुक्त हो जाएगा भारत

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने उम्मीद जतायी है कि भारत अक्टूबर 2019 तक खुले में शौच की समस्या से मुक्त हो जाएगा.

‘स्वच्छ भारत अभियान’ के तहत गृह मंत्रालय की ‘स्वच्छता ही सेवा’ मुहिम की शुक्रवार को शुरुआत करते हुए राजनाथ सिंह ने भरोसा जताया कि सरकार अक्टूबर 2019 तक खुले में शौच की समस्या से भारत को मुक्त करने के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संकल्प को पूरा करने में कामयाब होगी.

उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार स्वच्छता अभियान पर 76 मंत्रालयों और अन्य विभागों के मार्फत 12 हजार करोड़ रुपये खर्च कर रही है. उन्होंने कहा कि घर में ही शौचालय की सुविधा से महिलाओं की सुरक्षा और गरिमा सुनिश्चित होगी. साथ ही स्वच्छता ही सेवा अभियान से बच्चों के पोषण और कार्यकुशलता में सुधार होगा.

राजनाथ ने कहा कि सिक्किम, हिमाचल प्रदेश, केरल, हरियाणा और उत्तराखंड पहले ही खुले में शौच मुक्त राज्य घोषित किए जा चुके हैं. इसके लिए लगभग 4.60 लाख घरों और चार लाख विद्यालयों में शौचालय निर्मित किए जा चुके हैं. उन्होंने कहा कि इस मुहिम के तहत तकनीक के इस्तेमाल से अपशिष्ट कचरे के शोधन से राजस्व प्राप्ति सरकार की प्राथमिकता है.