भारत-नेपाल सीमा पर मौजूद पुलिस अधिकारी हनी की तलाश में जुटे

महराजगंज, हनीप्रीत की तलाश अब नेपाल बॉर्डर पर पहुंच गई है, भारत-नेपाल सीमा के सोनौली बॉर्डर पर चेकिंग तेज कर दी गई है और सुरक्षा कर्मियों द्वारा एक-एक महिलाओं की सघन तलाशी की जा रही है. बकायदा मुस्लिम महिलाओं के बुर्के को हटाकर उनके चेहरे को देखा जा रहा है कि कहीं इस बुर्के की आड़ में हनीप्रीत नेपाल में ना चली जाए. महराजगंज में स्थित नेपाल बॉर्डर पर सुरक्षा के इंतजाम कड़े कर दिए गए हैं और सुरक्षा के मद्देनजर बॉर्डर पर अलर्ट जारी कर दिया गया है. एक-एक महिला को एसएसबी महिला की जवान के साथ-साथ लोकल पुलिस भी चेकिंग कर तलाशी कर रही है. बॉर्डर पर मौजूद पुलिस अधिकारी हनी की तलाश में जुट गए हैं.

पुलिस अधिकारियों का कहना है कि सभी संबंधित थाने को अलर्ट कर दिया गया है. किसी भी हालात में हनीप्रीत किसी भेष में दूसरे देश में ना जाए पाए, इसके लिए हमारे थानों के साथ-साथ एसएसबी की चौकियां हैं. उनको भी सतर्क रहने को कहा गया है. क्योंकि ये महराजगंज बॉर्डर का मामला है और यहां से किसी को नेपाल जाने में बड़ी आसानी होती है. बलात्कार के आरोप में जेल में बंद डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम की मुंह बोली बेटी हनीप्रीत की तलाश अब सुरक्षा एजेंसियों ने तेज कर दी है. आईबी की अलर्ट के बाद महराजगंज जिले से लगी भारत-नेपाल की सबसे संवेदनशील सोनौली सीमा पर चौकसी तेज कर दी गई है. पुलिस और एसएसबी के जवान चप्पे-चप्पे की निगरानी कर रहे हैं. वही एसएसबी के जवान भारत-नेपाल सीमा के पगडंडी रास्तों पर भी सर्च ऑपरेशन कर रहे हैं. भारत-नेपाल सीमा पर हर जगह हनीप्रीत की तस्वीर चस्पा कर दी गई है.

एक सितंबर को हरियाणा पुलिस ने गुरमीत राम रहीम की बेटी हनीप्रीत के गायब होने पर लुक आउट नोटिस जारी किया था. जिसके बाद हनीप्रीत की तलाश शुरू कर दी गई थी लेकिन इतने दिनों के बाद भी हनीप्रीत का कहीं लोकेशन ना मिलने से अब सुरक्षा एजेंसियां नेपाल सीमा पर हनीप्रीत की तलाश शुरू कर दी है. सीमा पर सीसीटीवी कैमरे से भी निगरानी रखी जा रही है साथ ही महिला जवान लगातार महिलाओं की तलाशी चला रही है. हनीप्रीत को लेकर पूरे देश और प्रदेश में अलर्ट जारी किया गया है और पुलिस और खुफिया एजेंसियां हनीप्रीत की तलाश कर रही है लेकिन हनीप्रीत अभी सभी की पकड़ से दूर है. हनीप्रीत किस जगह है, ये किसी को नहीं मालूम. अब ऐसे में बॉर्डर पर इसलिए अलर्ट जारी कर दिया गया है ताकि हनीप्रीत इस बॉर्डर से विदेश ना भाग सके.