ऑनलाइन फ्रॉड की बढ़ती घटनाओं के बीच उत्तराखंड के सभी जिलों में बनाए जाएंगे साइबर सेल

हाल के दिनों में उत्तराखंड में साइबर अपराधों में हुई बढ़ोत्तरी के मद्देनजर पुलिस ने राज्य के सभी जिलों में एक साइबर सेल गठित करने का निर्णय लिया है.

अस्थायी राजधानी दिल्ली में एक प्रेस विज्ञप्ति में अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून और व्यवस्था) अशोक कुमार के हवाले से दी गई जानकारी में कहा गया है कि सभी जिलों में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक या पुलिस अधीक्षक कार्यालय में साइबर सेल गठित करने के आदेश दिए गए हैं, जिससे साइबर अपराधों का खुलासा हो सके और अपराधियों को पकड़ा जा सके.

ये आदेश पुलिस महानिदेशक अनिल रतूडी से मिले निर्देशों के बाद जारी किए गए हैं. रतूड़ी ने हाल के दिनों में साइबर अपराधों में हो रही वृद्धि पर चिंता व्यक्त की थी.

देहरादून, हरिद्वार और उधमसिंह नगर जैसे मैदानी जिलों में स्थित साइबर सेल में एक इंस्पेक्टर, एक सब इंस्पेक्टर, एक हेड कांस्टेबल और दो कांस्टेबल तैनात किए जाएंगे, जबकि पहाड़ी जिलों में गठित होने वाले साइबर सेलों में एक सब इंस्पेक्टर और दो कांस्टेबल तैनात किए जाएंगे.

इन साइबर सेलों में सेवा देने वाले कर्मचारियों के लिए कम्प्यूटर और साइबर कोर्स प्रशिक्षण अनिवार्य होगा. जिले के पुलिस स्टेशनों में आईटी अधिनियम के तहत दर्ज किए गए सभी मामलों की जांच साइबर सेल करेगी.