अहमदाबाद शिंजो आबे के स्वागत के लिए तैयार,पीएम मोदी के साथ करेंगे रोड शो

बुधवार को जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे दो दिवसीय भारत दौरे पर आएंगे. वह सीधा गुजरात के अहमदाबाद पहुंचेगे. उनके स्वागत के लिए अहमदाबाद को दुल्हन की तरह सजाया गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा कि भारत और अहमदाबाद आबे के वेलकम के लिए तैयार है.आबे के दौरे पर भारत को हाई स्पीड ट्रेन का सौगात मिलेगा. वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के और आबे के बीच चौथी वार्षिक शिखर वार्ता होगी. प्रधानमंत्री ने जापानी भाषा में भी ट्वीट किया. पीएम मोदी ने कहा कि जापान के साथ अपने संबधों को भारत काफी महत्व देता है. प्रधानमंत्री ने कहा वह विभिन्न क्षेत्रों में द्विपक्षीय संबंधों को और आगे बढ़ाने को लेकर आशान्वित हैं.

ऐसा पहली बार होगा जब भारत के प्रधानमंत्री किसी दूसरे देश के प्रधानमंत्री के साथ रोड शो करेंगे. जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे अपने दो दिवसीय दौरे पर बुधवार को भारत पहुंचेंगे. गुजरात के अहमदाबाद में नरेंद्र मोदी और आबे एक रोड शो करेंगे. मिली जानकारी के मुताबिक रोड शो करीब आठ किमी लंबा होगा. यह अहमदाबाद एयरपोर्ट से शुरू होगा और साबरमती आश्रम पर खत्म होगा. वहीं गुरुवार को दोनों देशों के पीएम भारत की पहली बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट का शिलायन्स करेंगे. जिसके बाद दोनों नेताओं के बीच एक बैठक भी होगी. इस दौरान जापान और गुजरात सरकार के बीच जापान इंडिया इंस्टीट्यूट मैन्युफैक्चरिंग की स्थापना के लिए भी एक एमओयू साइन होगा. ऐसा माना जा रहा है कि दोनों देशों के बीच इन्फ्रास्ट्रक्चर में इन्वेस्टमेंट, मेक इन इंडिया और डिजिटल इंडिया जैसे क्षेत्रों में सहयोग के अलावा एशिया -अफ्रीका ग्रोथ कॉरीडोर और रक्षा संबंधों को बढ़ाने के बारे में बातचीत हो सकती है.

रेलवे अधिकारियों ने बताया कि आधारशिला रखने के बाद भारतीय व जापानी प्रतिनिधिमंडल के बीच एक निवेश शिखर सम्मेलन का आयोजन होगा. इसमें जापान विदेश व्यापार संगठन और जापान अंतरराष्ट्रीय सहयोग एजेंसी के प्रतिनिधि भाग लेंगे. बुलेट ट्रेन की क्षमता 750 यात्रियों की होगी. इसके चलने से मुंबई-अहमदाबाद के बीच यात्रा की दूरी सात से घटकर तीन घंटे रह जाएगी. इस परियोजना पर 1.1 लाख करोड़ रुपये का खर्च आएगा. यह परियोजना आंशिक रूप से जापान द्वारा वित्तपोषित है. परियोजना को दिसंबर 2023 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है. हालांकि जैसे संकेत मिल रहे हैं उससे लगता है कि सरकार इसे 2022 में ही पूरा कर लेगी. बुलेट ट्रेन अहमदाबाद से मुंबई के सफर के दौरान 12 रेलवे स्टेशनों पर रुकेगी, लेकिन सिर्फ 165 सेकंड के लिए. मुंबई में बांद्रा-कुर्ला कांप्लेक्स से बोइसर के बीच 21 किलोमीटर लंबी सुरंग से बुलेट ट्रेन गुजरेगी. सुरंग का सात किलोमीटर का हिस्सा समुद्र के अंदर रहेगा.