दुर्गम क्षेत्रों में सुचारू रूप से स्वास्थ्य सेवाएं पहुंचाना राज्य सरकार की शीर्ष प्राथमिकता: मुख्यमंत्री

राज्य में 108 आपातकालीन सेवा के संचालन को सुदृढ़ करने हेतु शासन द्वारा 6 करोड़ रूपये की राशि अवमुक्त की गई है. इस आशय का शासनादेश अपर सचिव स्वास्थ्य डॉ.पंकज कुमार पाण्डेय ने महानिदेशक स्वास्थ्य के लिए जारी कर दिया है. मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि राज्य के दुर्गम तथा दूरस्थ क्षेत्रों में सुचारू रूप से स्वास्थ्य सेवाएं पहुंचाना राज्य सरकार की शीर्ष प्राथमिकता है.

आपातकालीन सेवा 108 राज्य के सभी क्षेत्रों में आपातकालीन स्वास्थ्य सेवाएं देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही हैं. विशेषकर दूरस्थ पर्वतीय क्षेत्रों में गर्भवती महिलाओं के प्रसव काल के दौरान उन्हें स्वास्थ्य केंद्रों तक पहुँचाने की दिशा में यह सेवा महत्वपूर्ण कार्य कर रही है.

उल्लेखनीय है कि 108 आपातकालीन सेवा अपनी 138 एम्बुलेंस गाड़ियों तथा टिहरी में 1 एम्बुलेंस बोट (नौका) के सहायता से सम्पूर्ण उत्तराखण्ड में किसी भी प्रकार की स्वास्थ्य इमर्जेन्सी की अवस्था में निःशुल्क सेवा प्रदान कर रही है.