भारत में दोड़ैगी बुलेट ट्रेन, आबे-मोदी करेंगे शिलान्यास

मुंबई और अहमदाबाद के बीच भारत की पहली महात्वकांक्षी बुलेट ट्रेन परियोजना तय समय से पहले पूरी हो सकती है. जापानी प्रधानमंत्री शिंज़ो आबे की भारत यात्रा से पहले रेल मंत्री ने सोमवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा, ‘बुलेट ट्रेन परियोजना को पूरा करने का लक्ष्य अब भी दिसंबर-2023 ही है लेकिन हम इसे 15 अगस्त, 2022 तक खत्म करने की कोशिश करेंगे.’

जापान के प्रधानमंत्री शिंज़ो आबे बुधवार को दो दिवसीय दौरे पर भारत पहुंचेंगे. इसके एक दिन बाद 14 सितंबर को प्रधानमंत्री मोदी और आबे अहमदाबाद के साबरमती रेलवे स्टेशन के पास एक मैदान में मेट्रो ट्रेन के लिए भूमि पूजन करेंगे. आबे और मोदी गुजरात में 12वें भारत-जापान वार्षिक शिखर सम्मेलन का भी आयोजन करेंगे. यह मोदी- आबे के बीच चौथा वार्षिक सम्मेलन होगा.

केंद्रीय मंत्री ने यह भी कहा कि हाई स्पीड ट्रेन कोरिडोर प्रोजेक्ट 4,000 प्रत्यक्ष नौकरी जबकि 20,000 अप्रत्यक्ष नौकरी मुहैया कराएगा. साथ ही पीयूष गोयल ने कहा है कि बुलेट ट्रेन की शुरुआत के बाद भारत के रेल नेटवर्क में क्रांतिकारी बदलाव देखने को मिलेंगे. बुलेट ट्रेन के लिए भूमि पूजन 14 सितंबर को होना है और इस कार्यक्रम में नरेंद्र मोदी सहित जापान के पीएम शिंज़ो आबे भी हिस्सा लेंगे.