केरल के कॉलेजों में नहीं दिखाया गया पीएम मोदी का भाषण, LDF सरकार की आलोचना

शिकागो में साल 1893 में स्वामी विवेकानंद के संबोधन के 125 साल पूरा होने के उपलक्ष्य में सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण को केरल के कॉलेजों में प्रसारित नहीं करने के माकपा नेतृत्व वाली एलडीएफ सरकार के फैसले की बीजेपी ने निंदा की.

भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य पीके कृष्णदास ने तिरुवनंतपुरम में संवाददाताओं से कहा कि सरकार का भाषण को प्रसारित करने से इनकार करना स्वामी विवेकानंद का ‘अपमान’ है और संघीय सिद्धांतों के खिलाफ है.

उन्होंने राज्यपाल न्यायमूर्ति पी. सदाशिवम से इस संबंध में सभी विश्वविद्यालयों से इस संबंध में स्पष्टीकरण मांगने का अनुरोध किया. राज्यपाल राज्य में सभी विश्वविद्यालयों के चांसलर भी हैं.