नेपाल से सटे इलाक़ों में लगे हनीप्रीत के पोस्टर

बालात्कारी गुरमीत सिंह की मुंहबोली बेटी हनीप्रीत अभी भी लापता है. पुलिस को आशंका है कि जांच से बचने के लिए हनीप्रीत भागकर नेपाल भी जा सकती है. इसलिए एहतियातन हरियाणा एटीएस के निर्देश पर यूपी पुलिस ने नेपाल बॉर्डर से सटे सभी इलाक़ों में सीमा से लगे थाना, पुलिस चौकी और चेकपोस्ट पर हनीप्रीत की फोटो लगा दी है. साथ ही पुलिस को भी सतर्क रहने का निर्देश जारी किया गया है. इतना ही नहीं यूपी के अलावा उत्तराखंड और बिहार से लगने वाला नेपाल सीमाई ज़िलों को भी अलर्ट जारी कर दिया गया है और सभी हाईप्रोफाइल महिलाओं के आने जाने पर ख़ास चौकसी बरतने को कहा है. पुलिस को निर्देश जारी किया गया है अगर किसी भी महिला को लेकर ज़रा भी संदेह हो तो तुरंत पुलिस मुख्यालय और अधिकारियों को सूचित करे.

बता दें कि डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत सिंह को सीबीआई की विशेष अदालत ने अपनी दो साध्वियों के साथ दुष्कर्म का दोषी करार दिया था और सश्रम 20 साल कारावास की सजा सुनाई है. शुरुआत में माना जा रहा था कि हनीप्रीत (पूर्व नाम प्रियंका तनेजा) डेरा की बागडोर संभाल सकते हैं. लेकिन फिलहाल अकूत संपत्ति वाले डेरा के नेतृत्व को लेकर अनिश्चितता कायम है. डेरा के सूत्रों ने कहा, ‘राम रहीम के उत्तराधिकारी पर अभी तुरंत कोई फैसला नहीं लिया जा रहा है. ‘सूत्र ने कहा कि हालांकि वह जेल में है लेकिन परिवार के सदस्यों व दूसरे मिलने वाले लोगों के जरिए दिशा-निर्देश देने का काम जारी रखेंगे. खुफिया एजेंसियों ने गुरमीत राम रहीम की मुंहबोली बेटी हनीप्रीत की जान के खतरे का अंदेशा जताया है. राम रहीम के जेल जाने के बाद से हनीप्रीत गायब है.

पुलिस की कई टीमें हनीप्रीत की तलाश में जुटी हुई हैं. खुफिया एजेंसियों ने अलर्ट जारी किया है कि हनीप्रीत की हत्या हो सकती है, उसकी जान को खतरा है. आपको बता दें कि हनीप्रीत के खिलाफ हरियाणा पुलिस ने 1 सितंबर को लुकआउट नोटिस जारी किया था. डेरा प्रमुख को हेलीकॉप्टर से पंचकूला से रोहतक ले जाने तक हनीप्रीत सिंह उनके साथ थी. इसके बाद डेरा प्रमुख को रोहतक के पास सुनारिया जेल में रखा गया था. हनीप्रीत को 25 अगस्त की शाम रोहतक के जाने के बाद से नहीं देखा गया है.