हमारी सेना युद्ध के लिए पूरी तरह से तैयार : रक्षामंत्री

रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण का कहना है कि हमारी सेना युद्ध के लिए पूरी तरह से तैयार है. तीनों सेनाओं के जवान हर परिस्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह से सक्षम है.

रक्षामंत्री का पदभार संभालने के बाद निर्मला सीतारमण ने अपने पहले फील्ड दौरे पर रविवार को भारत-पाक सीमा पर स्थित उत्तरलाई वायु स्टेशन का दौरा किया. वे वायुसेनाध्यक्ष एयरचीफ मार्शल बी.एस.धनोवा के साथ रविवार शाम करीब छह बजे राजस्थान के बाड़मेर जिले में स्थित उत्तरलाई वायुस्टेशन पर पहुंची. यहां बातचीत में उन्होंनें कहा कि जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद को खत्म कर शांति बहाली के प्रयास किए जा रहे है. वहां की राज्य सरकार और पुलिस के साथ मिलकर सेना ने कई आतंकवादियों को ऑपरेशन से पहले ही खत्म कर दिया.

सीतारमण ने कहा कि सोमवार से वे प्रतिदिन सुबह दस बजे दिल्ली में तीनों सेनाओं के प्रमुखों से मिलकर सेना की तैयारियों और भावी रणनीति पर विचार-विमर्श करेंगी, यदि किसी दिन कोई भी सेनाध्यक्ष दिल्ली में मौजूद नहीं रहेंगे तो उनके सहयोगी के साथ चर्चा होगी. यह बैठक 15 मिनट की रहेगी. उन्होंने कहा कि हमारी सेना को किसी भी प्रकार की कमी महसूस नहीं होने दी जाएगी,तीनों सेनाओं को हर प्रकार की मदद दी जाएगी. यहां वायुसैनिकों को संबोधित करते हुए निर्मला सीतारमण ने कहा कि सरकार हर मोर्चे पर सैनिकों के साथ है,तीनों सेनाओं के सैनिकों पर सरकार और देश को गर्व है. उन्होंने कहा कि सेना के जवानों पर देश को गर्व है,जिन कठिन परिस्थितियों में कटिबद्वता के साथ सैनिक देश की रक्षा कर रहे है,वह गौरव करने वाली बात है. उन्होंने कहा कि तीनों सेनाओं के सैनिकों के साथ सरकार हमेशा साथ है,हर तरह की मदद दिए जाने के प्रयास किए जा रहे हैं,सेना को और अधिक ताकत दी जाएगी .

उन्होंने कहा कि रक्षामंत्री की जिम्मेदारी देते समय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सीमा का दौरा करने के निर्देश दिए थे,इसलिए ही मै यहां आई हूं .उन्होंने कहा कि सेना हमारे देश की ताकत है,देश को उत्तरलाई एयर स्टेशन पर गर्व है .उल्लेखनीय है कि वर्ष 1965 एवं 1971 के भारत-पाक युद्व में उत्तरलाई स्टेशन की महत्वपूर्ण भूमिका रही थी .