‘देश में ‘अच्छे दिन’ आ गए हैं, कई लोग महसूस कर रहे हैं’ | आपने महसूस किया?

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने गुरुवार को ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर में कहा कि पार्टी ने जो ‘अच्छे दिन’ का वादा किया था, वे आ गए हैं. 2014 से कई राज्यों में विधानसभा चुनावों में मिले शानदार जनादेश दर्शाते हैं कि तेज गति से देश के विकास से लोग प्रभावित हैं.

अमित शाह ने ओडिशा की तीन दिवसीय यात्रा के दूसरे दिन भुवनेश्वर में एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘अच्छे दिन आ गए हैं और कई लोग इसे महसूस कर सकते हैं. बीजेपी 2014 में केंद्र की सत्ता में आयी थी और उसके बाद वह सभी चुनावों में विजयी रही है. कई राज्यों में लोगों ने उसे विधानसभा चुनावों में शानदार जनादेश दिया है.’

उन्होंने कहा कि लोगों के जनादेश से बड़ा कोई प्रमाण पत्र नहीं हो सकता. उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा, मणिपुर, असम, हरियाणा, झारखंड, जम्मू कश्मीर और महाराष्ट्र में पार्टी की जीत साबित करती है कि लोग अच्छे दिन महसूस कर रहे हैं.

शाह ने कहा कि ग्रामीण विद्युतीकरण अभियान, वन रैंक वन पेंशन योजना, मुद्रा बैंक, शौचालय, उज्ज्वला योजना के तहत मुफ्त एलपीजी के करोड़ों लाभार्थी अच्छे दिन को महसूस कर रहे हैं.

उन्होंने कहा कि सातवें वेतन आयोग से भी कइयों को फायदा हुआ. लोगों ने महसूस किया कि अच्छे दिन आ गए हैं, क्योंकि प्रभावी तरीके से नियंत्रित मुद्रास्फीति से उन्हें खासी राहत मिली है.

काले धन का जिक्र करते हुए शाह ने कहा कि मोदी सरकार ने बिना हिसाब के पैसे और धन रखने वालों पर शिकंजा कसा है तथा दो लाख से ज्यादा फर्जी कंपनियों का पंजीयन रद्द किया गया है. साथ ही 51 लाख नए करदाता दायरे में आए हैं.

काले धन के पैदा होने और उसके हस्तांतरण पर काबू के लिए ठोस कदम उठाए गए हैं और मारीशस, साइप्रस तथा सिंगापुर जैसे देशों के साथ संधियों के संबंध में आवश्यक कदम उठाए गए हैं.

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा कि बीजेपी नीत एनडीए सरकार के कार्यकाल में महत्वपूर्ण प्रगति हुई है और उसने अर्थव्यवस्था को पटरी पर ला दिया है. उन्होंने कहा कि तीन साल पहले यूपीए सरकार के शासनकाल में मुद्रास्फीति आसमान छू रही थी और विकास नीचे जा रहा था.

शाह ने एक सवाल के जवाब में कहा कि नोटबंदी का आर्थिक विकास दर पर कोई नकारात्मक प्रभाव नहीं पड़ा तथा दर्ज की गई कमी जीएसटी शुरू किए जाने के बाद एक अस्थायी प्रभाव है क्योंकि कारोबारी अपने पुराने स्टाक को खाली कर रहे थे.

उन्होंने कहा कि भारत अब दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्थाओं में से एक है और कुछ क्षेत्रों में हमारी प्रगति चीन से भी ज्यादा है.

एनडीए सरकार को दलितों, आदिवासियों, गरीबों, महिलाओं, बेरोजगारों और पिछड़े लोगों की सरकार बताते हुए शाह ने कहा कि केंद्र ने वंचितों के कल्याण के लिए कई कदम उठाए हैं.