हाई कोर्ट ने संजय नारंग के बंगले को ध्वस्त करने के दिए आदेश

देहरादून, मसूरी में मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर के दोस्त एवं बिजनेस पार्टनर संजय नारंग पर संकट की घड़ी आन पड़ी है. जिससे संजय का निकल पाना फिलहाल नामुमकिन नज़र आ रहा है.

दरअसल क्रिकेट के लेजेंड सचिन तेंदुलकर मसूरी में आकर जिस दोस्त संजय नारंग के यहां ठहरते हैं, उन्होंने बीते दिनों मसूरी में ही एक आलीशान बंगला बनवाया था. लेकिन ये बंगला पर्यावरण और अन्य मानकों पर खरा नहीं उतर पाया. जिसके चलते इस बंगले को लेकर कोर्ट में याचिका दायर की गई थी.

मामले में मंगलवार को  मुख्य न्यायाधीश केएम जोसफ और न्यायमूर्ति वीके बिष्ट की खंडपीठ ने विशेष याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा कि ये बंगला बिना केंद्र सरकार की अनुमति के 2008 में अंग्रेज आरएल दुग्लन से खरीदी गई प्रोपर्टी को दाखिल खारिज किए बिना 28 हजार वर्ग मीटर भूमि पर बंगले का पुनः निर्माण किया गया है, जो सही नही है.

कोर्ट ने मामले पर सुनवाई करते हुए भवन को तत्काल प्रभाव से ध्वस्त करने का आदेश दिया है. साथ ही न्यायालय ने घर परिसर में बने तालाब  और पुल को आगे की सुनवाई के बगैर ध्वस्त नहीं करने के आदेश जारी किए हैं.